पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अग्निपथ के विरोध में कांग्रेस का मौन सत्याग्रह:रामपुर में कांग्रेसियों ने कहा- सेना की गरिमा से समझौता बंद करे मोदी सरकार

रामपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रामपुर में आज जिला कांग्रेस कार्यालय पर कार्यकर्ताओं ने "अग्निपथ योजना" के खिलाफ राष्ट्रीय आह्वान पर मौन सत्याग्रह किया। सेना भर्ती से जुड़े संवेदनशील मसले पर "अग्निपथ योजना" मनमानी पूर्ण फैसला है। भाजपा सरकार सेना भर्ती को अपनी प्रयोगशाला क्यों बना रही है? क्या सैनिकों की लंबी नौकरी सरकार को बोझ लग रही है? युवा कह रहे हैं कि ये 4 साला नियम छलावा है। यह कहना है रामपुर के कांग्रेसियों का।

न कोई चर्चा, न कोई गंभीर सोच-विचार, बस मनमानी
कांग्रेस के शहर अध्यक्ष नोमान खां ने कहा, हमारे पूर्व सैनिक भी इससे असहमत हैं। सेना भर्ती से जुड़े संवेदनशील मसले पर न कोई चर्चा, न कोई गंभीर सोच-विचार। बस मनमानी है मोदी सरकार की। "अग्निपथ योजना" पर जमकर हमला बोला और योजना को सवालों के कटघरे में खड़ा किया।

नोमान खां ने कहा, "अग्निपथ योजना " सशस्त्र बलों की प्रभावशीलता को कम करेगी। भाजपा सरकार को हमारी सेना की गरिमा, परंपराओं, वीरता और अनुशासन से समझौता करना बंद करना चाहिए। मोदी सरकार की मनमानी किसी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

देश के युवाओं के साथ खिलवाड़ बंद हो
देश के युवाओं को उनके अधिकारों से वंचित किया जा रहा है। सरकार अपनी नाकामियों को छिपा रही है। देश के युवाओं के साथ खिलवाड़ बंद होना चाहिए। "अग्निपथ योजना" वापस होना चाहिए। इस मौके पर अकरम सुलतान, रामगोपाल सैनी, मास्टर फिरोज खां, हाजी नादिश खां, शैजी सैफी, सुहैल खां, अब्दुल जब्बार खां, आसिफ खां, महरबान अली, दिव्यांश सिंघल, शकील मंसूरी, आलेहसन, यासिर खां, वासिक अली, अय्युब अली, नासिर खां, खुशनूद खां, ताबिश खां, शरीफ अहमद, जाफर अंसारी आदि मौजूद रहे।