पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रामपुर में आजम खान बोले:टोपी वालों को पीटा जा रहा, जहां से वोटर आने, वहां 500 पुलिस वाले खड़े हैं

रामपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रामपुर में आज लोकसभा उपचुनाव को लेकर मतदान हो रहा है। गुरुवार दोपहर करीब 4 बजे सपा विधायक आजम खान ने जीआर पीजी रजा डिग्री कॉलेज में वोट डाला। पोलिंग बूथ से बाहर निकलकर उन्होंने मीडिया से बातचीत की। आजम ने कहा, पोलिंग बूथ पर मतदाता नहीं दिख रहे हैं। आज मायूसी है। मतदाता आतंकित हैं।

पुलिस उन्हें डंडे से पीट रही है। जिस मोहल्ले से सारे वोटर आने थे, उसके नाके पर 50-60 गाड़ियां खड़ी हैं। 500 पुलिस वाले खड़े हैं तो कौन आएगा वोट डालने। सड़कों पर पुलिस खड़ी रही वो वोटर्स को बूथ तक आने से रोक रहे हैं। टोपी वालों को पीटा जा रहा है।’

ये फोटो आजम खान की पत्नी तंजीन फतिमा का है। उन्होंने पुलिस प्रशासन पर मतदान प्रभावित करने का आरोप लगाया है।
ये फोटो आजम खान की पत्नी तंजीन फतिमा का है। उन्होंने पुलिस प्रशासन पर मतदान प्रभावित करने का आरोप लगाया है।

आजम की पत्नी और बेटे ने भी मतदान प्रभावित करने का लगाया आरोप
उधर, आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम खान ने भी पुलिस और प्रशासन पर मतदान प्रभावित करने का आरोप लगाया है। तंजीन ने कहा है कि रामपुर में वोटिंग की स्पीड कम है और लोगों को परेशान किया जा रहा है।

तंजीन ने सरकार पर वोटरों को धमकाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि रामपुर में वोटर्स पर लाठीचार्ज किया जा रहा है और वोटिंग की स्पीड कम करा दी गई है। आजम खान के परिवार का कोई भी सदस्य इस चुनाव में प्रत्याशी नहीं है।

ये फोटो सपा प्रत्याशी आसिम राजा का है। उन्होंने कहा कि डीएम-एसपी मतदान नहीं करने दे रहे हैं।
ये फोटो सपा प्रत्याशी आसिम राजा का है। उन्होंने कहा कि डीएम-एसपी मतदान नहीं करने दे रहे हैं।

वहीं, सपा प्रत्याशी आसिम राजा ने कहा कि डीएम-एसपी मतदान नहीं करने दे रहे हैं। आधार कार्ड से वोट नहीं डालने दे रहे हैं। मतदाताओं को परेशान किया जा रहा है। लोगों को घरों से निकलने नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि मतदान कम हुआ है, लेकिन हम जीत रहे हैं।

दो सीटों पर हो रहा उपचुनाव
बता दें कि गुरुवार को यूपी के आजमगढ़ और रामपुर में लोकसभा उपचुनाव की वोटिंग हो रही है। आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा क्षेत्र एसपी के मजबूत गढ़ माने जाते हैं। आजमगढ़ सीट से अखिलेश यादव से पहले उनके पिता मुलायम सिंह यादव सांसद थे।

इसलिये इस सीट का उपचुनाव एसपी के लिए प्रतिष्ठा का सवाल है। दूसरी ओर, रामपुर लंबे समय से आजम खान का प्रभाव क्षेत्र रहा है और पार्टी ने रामपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव का जिम्मा खान को ही सौंप रखा था।

खबरें और भी हैं...