पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रायबरेली में भाजपा नेता ने डॉक्टर से मांगी रंगदारी:कहा- डरा धमकाकर मांगे जा रहे 10 लाख रुपए, पुलिस नहीं करती सुनवाई

रायबरेली9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रायबरेली में डॉक्टर से भाजपा नेती की मुलाकात और वसूली सीसीटीवी कैमरे में हुई कैद। - Money Bhaskar
रायबरेली में डॉक्टर से भाजपा नेती की मुलाकात और वसूली सीसीटीवी कैमरे में हुई कैद।

रायबरेली में एक डॉक्टर ने भाजपा नेता पर 10 लाख की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है। जानकारी के मुताबिक पूर्व भाजपा नगर अध्यक्ष व जिला कार्यसमिति सदस्य संतोष कुमार पांडे का जिला अस्पताल के बाहर मेडिकल स्टोर है। वह ओपीडी में आकर दबंगई करता है। ज्यादा दबाव पड़ने पर पीड़ित द्वारा उसे 1 लाख रुपए दिए गए हैं। जिसकी वीडियो उसने पुलिस को दिया है।

जिला अस्पताल के सामने है मेडिकल स्टोर

जिले के जिला अस्पताल में ईएनटी विशेषज्ञ डॉ शिव कुमार ने संतोष कुमार पांडे के खिलाफ केस दर्ज करवाया है। उनका आरोप है कि संतोष आए दिन ओपीडी में आकर मेडिकल स्टोर की दवाएं लिखने का दबाव बनाता है। साथ ही दस लाख रुपये रंगदारी भी मांग रहा है।

कोतवाली में दिया था शिकायती पत्र

डॉक्टर ने बताया कि उसने संतोष के खिलाफ 10 जून को कोतवाली में शिकायती पत्र दिया था। लेकिन उसके खिलाफ केस दर्ज नहीं किया गया। अधिक दबाव पड़ने पर उसने संतोष को अपने घर पर बुलाकर 1 लाख रुपए दिए थे। यह लेनदेन सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी।

ओपीडी में आकर करता है गाली-गलौच

एक लाख रुपए देने के बाद भी भाजपा नेता ओपीडी में आकर जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर गाली गलौज करता है। जानमाल के नुकसान की धमकी देता है। एसपी श्लोक कुमार ने बताया कि डॉक्टर की तहरीर पर रंगदारी मांगने का केस दर्ज किया गया है। विवेचना सीओ सिटी वंदना सिंह के पास है। जल्द ही आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

बिना लाइसेंस के नर्सिंग होम चलाते हैं डॉक्टर

वहीं भाजपा नेता संतोष पांडेय का कहना है कि डॉ शिव कुमार बिना लाइसेंस के निजी नर्सिंग होम चला रहे थे। कोविड कॉल में उन्होंने दो मरीजों से इलाज के नाम पर 30-30 हजार रुपए लिए थे। वही रुपये उन्होंने वापस किए हैं। जिसे मैंने मरीजों को दे दिया, सारे आरोप बेबुनियाद हैं।