पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रायबरेली में DSTO पर रेप का आरोप:4 सालों से लिव-इन रह रही महिला को घर से निकाला, बोले- मैं सरकारी अधिकारी, पुलिस मेरा क्या कर पाएगी

रायबरेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रायबरेली में जिला अर्थ संख्या अधिकारी (DSTO) पर लोन दिलाने के नाम पर महिला के साथ रेप करने का आरोप लगा है। आरोप है कि DSTO ने महिला को शादी का झांसा देकर 4 सालों से उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। महिला ने जब शादी का दबाव बनाया तो उसके साथ मारपीट की और घर से भगा दिया। पीड़िता ने जब पुलिस से शिकायत की बात कही तो DSTO ने कहा, 'मैं सरकारी अधिकारी हूं, पुलिस मेरा क्या कर पाएगी'।

शहर के एक मोहल्ले की रहने वाली महिला ने कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि, वह अपने पहले पति से अगल रहती है। उसकी 9 साल की बेटी है। 4 साल पहले वह अपनी बेटी के साथ विकास भवन स्थित DSTO ऑफिस में लोन मंजूर कराने गई थी। वह उसकी मुलाकात DSTO अरविंद कुमार वर्मा से हुई। उन्होंने आश्वासन दिया कि वह उसका लोन पास करा देंगे।

लिव-इन में रह रहे थे दोनों
महिला ने बताया, लोन पास कराने के सिलसिले में उसकी DSTO से मुलाकात होने लगी। इसी बीच दोनों प्रेम-प्रसंग शुरू हो गया। DSTO के कहने पर वह बेटी को लेकर उनके साथ लिव-इन में रहने लगी। महिला ने आरोप लगाया कि, शादी का झांसा देकर DSTO ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। विरोध करने पर कहा कि मैं तुम्हारे साथ कोर्ट मैरिज कर लूंगा। मैं DSTO के बहकावे में आ गई। बीते अप्रैल महीने में उसने कोर्ट मैरिज के लिए प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन अधिकारी के दबाव के चलते कोर्ट मैरिज प्रमाण पत्र नहीं मिल पाया।

2 महिलाओं के साथ मिलकर की मारपीट व लूटपाट
महिला ने आरोप लगाया कि, बीती 7 मई को जब उसने DSTO के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की बात कही तो वो गुस्से में आ गए। उन्होंने 2 महिलाओं ने मिलकर उसके साथ न सिर्फ मारपीट की, बल्कि सोने की चेन, सोने का धागा छीन लिया। गला दबाकर मारने का प्रयास किया। इसके बाद उसे और उसकी बेटी को घर से भगा दिया। DSTO ने कहा, 'मैं सरकारी अधिकारी हूं, पुलिस मेरा क्या कर पाएगी'।

पुलिस ने 3 पर दर्ज किया केस
महिला ने बताया, DSTO के घर से निकाले जाने के बाद वह अपने मायके चली गई थी। बीते गुरुवार 19 मई को वह शहर कोतवाली पहुंची और तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। सदर कोतवाल राघवन कुमार सिंह ने बताया, पीड़िता की तहरीर पर जिला अर्थ संख्या अधिकारी अरविंद कुमार वर्मा, कहारों का अड्डा की रहने वाली फरीन अंजुम और फरा के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। महिला ने DSTO पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया है। मामला गंभीर है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...