पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रायबरेली...सरकारी जांच में 12 सरकारी दवाएं फेल:मरीजों को बांटने के लिए आई थी दवाएं, सीएमओ ने शासन से मांगा निर्देश

रायबरेली9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीमएओ ने शासन को पत्र लिखकर मामले से अवगत कराया है। - Money Bhaskar
सीमएओ ने शासन को पत्र लिखकर मामले से अवगत कराया है।

उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य बेहतर बनाने को लेकर योगी सरकार ने जिन दवाओं की खरीद फरोख्त पर रोक लगाई है। काॅरपोरेशन ने वही दवाएं रायबरेली में भेज दी हैं। यहां पर मरीजों को बांटी जाने वाली सरकारी दवाएं सरकारी जांच में फेल हो गई हैं।

लखनऊ मेडिकल काउंसिल ने जिले में दवाओं की सप्लाई की थी जिसमें करीब 12 जीवन रक्षक दवाएं मेडिकल लैब टेस्ट में फेल हो गई है। इसके अलावा करीब 12 दवाएं हैं, जो एक्सपायर हो गई हैं। मेडिकल लैब टेस्ट में जिन दवाओं को अधोमानक माना गया है उनमें सिफिक्जीम, लिवो सिट्रीजीन और अजीथ्रोमाइसीन जैसी जीवन रक्षक दवाएं शामिल हैं।

सीएमओ वीरेंद्र सिंह ने इन दवाओं के लिए शासन को पत्र लिखकर निर्देश मांगा है।