पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Bhartiya Kisan Union Live Updates : Farmer Issue Prayagraj Confrence ,On The Call Of Bhakiyu, The Parade Ground Will Run From 16 To 18, The Chintan Camp Will Be Held On The Issues Of Farmers

प्रयागराज पहुंचे राकेश टिकैत:परेड ग्राउंड में बोले-मजबूत विपक्ष के लिए योगी का जीतना जरूरी, हम आंदोलनकारी हैं, आंदोलन करते रहेंगे

प्रयागराज4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रयागराज के परेड ग्राउंड में पहुंचे राकेश टिकैत का किसानों ने जोरदार स्वागत किया।
  • 16 से 18 तक चलेगा भाकियू का चिंतन शिविर, किसानों के मुद्दों पर होगा मंथन

संगम नगरी के परेड ग्राउंड में रविवार से किसानों का एक विशाल चिंतन शिविर आयोजित किया जा रहा है। इस शिविर में विभिन्न जिलों से आए किसान भाग ले रहे हैं। रविवार को प्रयागराज पहुंचे भारतीय किसान यूनियन (टिकैत गुट) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने सीधे तो नहीं कहा, लेकिन अप्रत्यक्ष रूप से यह कहा कि यूपी में सत्ता परिवर्तन होकर रहेगा। अखिलेश यादव की सरकार बनेगी और योगी आदित्यनाथ को विपक्ष में बैठना होगा। उन्होंने कहा कि मजबूत विपक्ष के लिए योगी का जीतना जरूरी है।

राकेश टिकैत के प्रयागराज पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया।
राकेश टिकैत के प्रयागराज पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया।

MSP कानून बनाने को लेकर भी होगा चिंतन

चिंतन शिविर में भाग लेने पहुंचे राकेश टिकैत ने कहा कि दिल्ली में 13 महीने जो आंदोलन चला है उसपर चर्चा होगी। किसानों के मुद्दों को कैसे सरकार के सामने रखा जाए उनपर विचार हाेगा। एमएसपी पर गारंटी कानून बनाने पर भी मंथन होगा। जिन राज्यों में चुनाव नहीं है वहां चुनाव के बाद करेंगे। जो भी नई सरकार बनेगी उससे बात होगी। कुछ मामलों में मौजूदा सरकारों पर दबाव बनाया जाएगा। प्रयागराज में धान की खरीद का मामला है उसपर हम सरकार से बात करेंगे।

राकेश टिकैत ने किसानों के साथ पंगत में भोजन भी किया।
राकेश टिकैत ने किसानों के साथ पंगत में भोजन भी किया।

चुनाव से चिंतन शिविर का कोई लेना-देना नहीं

टिकैत ने कहा कि चुनाव का हमारे चिंतन शिवर से कोई लेना-देना नहीं है। माघ मेला में चिंतन शिवर लगता है। इसमें हम किसानों के हित, किसानों के मुद्दों और संगठन को मजबूत करने पर वार्ता करेंगे। 31 जनवरी को एक कार्यक्रम है पूरे देश में। इसपर हम जिला मुख्यालयों में प्रदर्शन करेंगे। ज्ञापन सौंपेंगे। इसकी तैयारियों पर भी चर्चा होगी। किसान आंदोलन में मृतकों के परिजनों को अभी तक मुआवजा नहीं दिया गया। हम मंत्री अजय मिश्र टेनी के मामले में भी 21, 22 व 23 को वहां अधिकारियों से लखीमपुर में रहकर वार्ता करेंगे। जेल में बंद किसानों से मिलेंगे व पीड़ित परिवारों से भी मिलकर उनके अधिकारों के लिए अधिकारियों से वार्ता करेंगे।

राकेश टिकैत ने अपने अंदाज में किसानों से चर्चा भी की।
राकेश टिकैत ने अपने अंदाज में किसानों से चर्चा भी की।

किसान जातिगत और धर्म के आधार पर बंटा है

किसान यूपी विधानसभा चुनाव में किसे वोट करेगा‌? इस सवाल के जवाब में राकेश टिकैत ने कहा कि किसान जातिगत और धर्म के आधार पर बंटा हुआ है। किसानों के मुद्दों पर जातिगत और धर्म के मुद्दे हावी है। यूपी सरकार किसानों के मुद्दाें पर नहीं सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के आधार पर वोट मांग रही है। विकास का मुद्दा अब कहां है‌‌?

भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष अनुज सिंह ने बताया कि 17 व 18 जनवरी को किसानों की सभा होगी। इसमें कई जिलों के किसान भाग लेंगे। इस चिंतन शिविर में किसानों से संबंधित विभिन्न समस्याओं पर विचार-विमर्श किया जाएगा। राकेश टिकट 18 जनवरी तक किसानों के बीच रहकर उनकी समस्याओं पर गहन विचार-मंथन करेंगे। चिंतन शिविर में इस बात पर ज्यादा जोर दिया जाएगा कि जो समस्याएं हैं उनका समाधान कैसे किया जाए।

प्रयागराज के परेड ग्राउंड में 16 से शुरू हुआ चिंतन शिविर 18 जनवरी तक चलेगा।
प्रयागराज के परेड ग्राउंड में 16 से शुरू हुआ चिंतन शिविर 18 जनवरी तक चलेगा।

किसानों की समस्याओं पर होगा मंथन

अनुज का कहना है कि इस चिंतन शिविर का किसी राजनीतिक एजेंडे से कोई लेना देना नहीं है। यह यह चिंतन शिविर विशुद्ध रूप से केवल किसानों के समस्याओं के समाधान के लिए आयोजित किया जा रहा है। इसमें केवल किसान होंगे उनकी समस्याएं होंगी और हम उनका समाधान ढूंढने का प्रयास करेंगे। चिंतन शिविर में शासन द्वारा दी गई गाइडलाइंस का भी पालन किया जाएगा। कोविड-19 प्रोटोकॉल का किसी भी तरह से उल्लंघन ना हो इस बात का हमारे वालंटियर पूरा ध्यान रखेंगे।

खबरें और भी हैं...