पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रयागराज में छठी बार मिली बम जैसी डिवाइस:2 दिन पहले रेलवे अंडरपास में भी बम की अफवाह थी, ट्रेन यात्रियों के लिए खतरे का संकेत

मेजा, प्रयागराज7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रयागराज में हाल ही में छठी बार बम जैसी डिवाइस मिलने से लोगों में हड़कंप है। सुरक्षा एजेंसियां भी अलर्ट कर दी गई हैं। मेजा रोड स्थित रेलवे अंडरपास में रखी गई बम जैसी डिवाइस का खुलासा दो दिन बाद भी नहीं हो सका। रविवार को एक दूसरी घटना ने क्षेत्र में दहशत फैला दी है। सुबह प्रयागराज और मिर्जापुर बॉर्डर के मांडा स्थित एक अंडरपास पुलिया के नीचे भी इसी प्रकार से बम जैसी डिवाइस मिली है। सूचना मिलते ही प्रयागराज और मिर्जापुर पुलिस मौके पर पहुंच गई। अंडरपास का यातायात बंद कर डायवर्जन किया गया है।

मेजा रोड और धीरपुर के बीच में रेलवे अंडरपास के नीचे दो दिन पहले टाइम बम जैसी डिवाइस मिली थी।
मेजा रोड और धीरपुर के बीच में रेलवे अंडरपास के नीचे दो दिन पहले टाइम बम जैसी डिवाइस मिली थी।

दो दिन पहले मिली थी डिवाइस
बता दें कि अभी 2 दिन पहले ही मेजा रोड स्थित रेलवे अंडरपास पुलिया में बम जैसी दो डिवाइस बरामद हुई थीं। इसको लेकर क्षेत्र में दहशत फैल गई थी। जांच के लिए पहुंचे बम निरोधक दस्ते ने इसे फर्जी बताया था। वहीं इस तरह की खुराफात करने वालों की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हो सकी है। मौके पर एसएसपी सहित आला अधिकारी पहुंचे थे। ढाई घंटे तक दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग का संचालन बंद रहा था। शरारती तत्वों की इस हरकत से ट्रेन में सफर करने वालों यात्रियों पर खतरा मंडरा रहा है।

इसी प्रकार से रविवार सुबह मांडा स्थित रेलवे पुलिया पर भी बम जैसी डिवाइस रखी मिली। सूचना को लेकर पुलिस अलर्ट हो गई। अंडरपास के दोनों तरफ बैरिकेडिंग कर यातायात को रोक दिया गया है। इसके साथ ही रेलवे विभाग को भी सूचना दी गई है।

बम जैसी डिवाइस मिलने के बाद पहुंची पुलिस फोर्स।
बम जैसी डिवाइस मिलने के बाद पहुंची पुलिस फोर्स।

6ठी बार मिली बम जैसी डिवाइस
मेजा में बम जैसी डिवाइस मिलना कोई नई बात नहीं है। इसके पहले जून 2016 में भी इस प्रकार की डिवाइस रखी गई थी। इस कारण काफी हंगामा हुआ था। बाद में बम निरोधक दस्ते के आने के बाद इसे फर्जी साबित किया गया था। 2016 में इस प्रकार से 4 घटनाएं हुईं थी। पहली रेलवे स्टेशन मेजा रोड के प्लेटफार्म संख्या दो पर, दूसरी रेलवे क्रासिंग के पास स्थित मोबाइल टावर के नीचे, तीसरी घटना रेलवे ओवरब्रिज के ऊपर और चौथी घटना मेजा के कोटहा गांव के पास हुई थी। 5वीं घटना 2 दिन पहले मेजा रोड में हुई थी।

दिल्ली-कोलकाता रेल मार्ग पर साढ़े तीन घंटे ट्रेनें बाधित
बम मिलने की सूचना से दिल्ली-कोलकाता रेल मार्ग पर साढ़े तीन घंटे तक ट्रेने बाधित रहीं। मिर्जापुर के जिगना थाना पुलिस की सूचना पर प्रयागराज से बम डिस्पोजल दस्ता ने उसे बरामद किया। इसके बाद आवागमन चालू हुआ। मीरजापुर रेलवे स्टेशन पर क्षिप्रा एक्सप्रेस तो विंध्याचल में पटना कुर्ला एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनें स्टेशनों पर खड़ी रहीं।

खबरें और भी हैं...