पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Uttar pradesh big breaking news updates 26june 2022 today live news updates agra lucknow kanpur varanasi prayagraj meerututtar pradesh big breaking news updates 26

यूपी की बड़ी खबरें:कानपुर में टॉफी का लालच देकर 60 साल के दुकानदार ने मासूम से किया रेप

उत्तर प्रदेश7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कानपुर में 7 साल की मासूम से दुकानदार ने अपनी दुकान के अंदर ही रेप किया। फिर बच्ची की हालत बिगड़ने पर उसे छोड़कर भाग गया। किसी तरह घर पहुंची। बच्ची को परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया। इसके बाद थाने में तहरीर दी। घटना गुरुवार यानी 23 जून की है। उधर, तीन दिन तक पीड़ित परिवार पर आरोपी समझौते का दबाव बनाता रहा। इसके बाद रविवार को पुलिस ने FIR दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया।

टॉफी देने का लालच देकर बच्ची को दुकान में बुलाया

मामला बिधनू थाना क्षेत्र का है। जहां सेन चौकी क्षेत्र में रहने वाली महिला ने बताया कि वह नर्स है। उसका पति ड्राइवर है। महिला ने बताया कि उसकी 7 साल की बेटी तीसरी क्लास में पढ़ती है। वह गुरुवार को घर के बाहर खेल रही थी। तभी परचून दुकानदार प्रजानंद ने टॉफी देने का लालच देकर बच्ची को दुकान में बुला लिया। इसके बाद उसने बेटी से रेप किया। जब बेटी चीखने लगी, तो प्रजानंद भाग निकला। किसी तरह बच्ची बिलखते हुए घर पहुंची। उसने अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया।

  • यूपी की अन्य बड़ी खबरें

मुरादाबाद में 13 साल के छात्र की पीट-पीटकर हत्या, मदरसे से लौटते समय छात्रों में हुआ था विवाद

मुरादाबाद में रविवार को मदरसा में पढ़ने वाले एक 13 साल के छात्र की पीट -पीटकर हत्या कर दी गई।
मुरादाबाद में रविवार को मदरसा में पढ़ने वाले एक 13 साल के छात्र की पीट -पीटकर हत्या कर दी गई।

मुरादाबाद में रविवार को मदरसा में पढ़ने वाले एक 13 साल के छात्र की पीट -पीटकर हत्या कर दी गई। परिजनों का आरोप है छात्रों के बीच कहासुनी के चलते उनके बेटे की हत्या की गई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया गया है।

ईंट से कूचकर मार डाला

घटना पढ़ें पूरी खबर...

ट्रक चालक की गला रेत कर हत्या, गायब खलासी की पुलिस कर रही तलाश

वाराणसी-आजमगढ़ मार्ग पर खड़े ट्रक के ड्राइवर की गला रेतकर हत्या कर दी गई।
वाराणसी-आजमगढ़ मार्ग पर खड़े ट्रक के ड्राइवर की गला रेतकर हत्या कर दी गई।

वाराणसी-आजमगढ़ मार्ग पर खड़े एक ट्रक के ड्राइवर की गला रेत कर हत्या कर दी गई। जबकि खलासी गायब था। स्थानीय ग्रामीणों की सूचना पर रविवार की सुबह चोलापुर थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। फिलहाल वारदात की वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है। पुलिस ट्रक के रजिस्ट्रेशन नंबर की मदद से उसके मालिक से संपर्क करने का प्रयास कर रही है।

चोलापुर थाना अंतर्गत कपिसा मोड़ के समीप सरकारी खाद्यान्न का गोदाम है। वहां अनाज लाने और ले जाने वाले ट्रक खड़े रहते हैं। वाराणसी के रजिस्ट्रेशन नंबर वाले जिस ट्रक के चालक की हत्या की गई है वह भी शुक्रवार की शाम से ही वहां खड़ा था।

स्थानीय लोगों के अनुसार ट्रक में खाद्यान्न लादने के बाद ड्राइवर और खलासी के बीच विवाद हुआ था। थानाध्यक्ष ने कहा आरोपी को गिरफ्तार कर जल्द घटना का खुलासा किया जाएगा। पढ़ें पूरी खबर...

लखनऊ पहुंचे आर. माधवन, पहली फिल्म 'रॉकेट्री: द नांबी इफेक्ट' का किया प्रमोशन

अपनी फिल्म रॉकेट्री: द नांबी इफेक्ट का प्रमोशन के लिए फिल्म अभिनेता आर. माधवन लखनऊ पहुंचे। माधवन इस फिल्म में एक्टिंग के साथ डायरेक्टर का रोल भी कर रहे है। लखनऊ के एक निजी होटल में फिल्म के प्रमोशन के दौरान आर. माधवन ने मीडिया से बात की।

उन्होंने बताया कि इस फिल्म में बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान ने भी गेस्ट रोल किया है। इसके लिए उन्होंने एक रुपए चार्ज भी नहीं लिए हैं। फिल्म की कहानी उनको इतनी पसंद आई कि खुद इसका हिस्सा बनने की बात कही। यह फिल्म इसरो वैज्ञानिक और प्रतिभाशाली नंबी नारायणन के जीवन पर आधारित एक बायोग्राफिकल ड्रामा है। नंबी नारायणन को एक समय साल 1994 में गलत आरोप में फंसा दिया गया था। तब उनके खिलाफ देशी विरोधी काम करने के भी आरोप लगे थे। हालांकि यह सब आरोप झूठ साबित हुए और नंबी आगे चलकर देश के सबसे बड़े वैज्ञानिक बने। पढ़ें पूरी खबर...

प्रयागराज के बेली अस्पताल में लगे हैं दो आक्सीजन प्लांट, DM ने जांच कराने के दिए निर्देश

प्रयागराज के तेज बहादुर सप्रू अस्पताल (बेली) में दो आक्सीजन प्लांट स्थापित होने के बावजूद यहां आक्सीजन सिलेंडर बाहर से खरीदना पड़ रहा है। इसके डीएम संजय कुमार खंत्री ने संज्ञान में लिया है। उन्होंने मामले की जांच के भी निर्देश दिए हैं। दरअसल, यहां तीन वार्डों में अभी भी आक्सीजन के लिए पाइप नहीं है। यही कारण है कि यहां भर्ती मरीजों को जरूरत पड़ने पर अलग से आक्सीजन कंसंट्रेटर लगाया जाता है। बताया जाता है कि इसकी खरीदारी बाहर से की जाती है।

कोरोना की पहली, दूसरी और तीसरी लहर में बेली अस्पताल को लेवल -2 का कोविड अस्पतला बनाया गया था। यहां सैकड़ों की संख्या में कोरोना मरीजों को भर्ती किया गया और उनका इलाज किया गया। कोविड के चलते इस अस्पताल में तमाम संसाधन शासन स्तर से मुहैया कराया जा चुका है। वेंटीलेटर के साथ साथ आक्सीजन प्लांट भी लगाए गए हैं लेकिन कुछ टेक्निकल कारणों से तीन वार्डों में अभी पाइपलाइन से आक्सजीन सप्लाई नहीं हाे पा रही है। डीएम का कहना है कि तीन वार्डों में पाइप लाइन के लिए शासन को बजट का प्रस्ताव भेज दिया गया है। जल्द ही इस समस्या से निजात मिलेगी।