पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अवैध उगाही में खालापार चौकी प्रभारी, 4 सिपाही लाइनहाजिर:मुजफ्फरनगर में युवक को गांजा की तस्करी में जेल भेजने की दी थी धमकी, SSP ने की कार्रवाई

मुजफ्फरनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुजफ्फरनगर SSP ने कड़ी कार्रवाई करते हुए युवक से अवैध उगाही के मामले में खालापार चौकी प्रभारी प्रवेश शर्मा सहित 4 सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया। इससे पहले पीड़ित की शिकायत पर कराई गई जांच में मामला साबित हुआ। एसएसपी के आदेश के बाद पुलिस ने चौकी पर खड़ी पीड़ित की स्कूटी भी वापस कर दी। आरोप था कि खालापार चौकी पुलिस ने एक युवक को गांजे की तस्करी में जेल भेजने की धमकी देकर एक लाख रुपए की उगाही की थी। उससे 2 लाख की मांग आगे भी की जा रही थी। अब एसएसपी ने एसआइ राकेश शर्मा को खालापार चौकी प्रभारी के तौर पर तैनाती दी है।

स्कूटी सहित युवक को उठाया था घर से
शहर कोतवाली क्षेत्र की खालापार चौकी प्रभारी व 4 सिपाहियों पर एसएसपी ने जांच कराकर कार्रवाई की है। पूरा मामला अवैध उगाही से जुड़ा बताया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो खालापार की दर्जियों वाली गली निवासी जुनैद ने हाल में ही एक स्कूटी खरीदी थी। 3 दिन पहले खालापार चौकी पर तैनात कुछ सिपाही जुनैद के पास पहुंचे और मारपीट करते हुए उससे उसकी स्कूटी लेकर चले गए। आरोप है कि खालापार चौकी पुलिस ने स्कूटी चोरी की बताते हुए रुपयों की मांग की। लेकिन जुनैद ने स्कूटी के कागज पुलिस को दिखा दिए। जिसके बाद उस पर नशा करने तथा गांजा आदि की तस्करी करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की धमकी दी गई। आरोप है कि पुलिस ने कार्रवाई से बचने के लिए जुनैद को कहा कि वह 3 लाख रुपये दे। जिसके बाद एक बिचौलिये की मदद से जुनैद ने 1 लाख रुपये खालापार चौकी पुलिस को दे भी दिए।

शिकायत पर एसएसपी ने की कार्रवाई
इस मामले में पीड़ित जुनैद ने खालापार चौकी पुलिस को एक लाख रुपए दिए। बावजूद उस पर उगाही का दबाव बनाया जाता रहा। जिससे परेशान होकर जुनैद ने सारे मामले की शिकायत एसएसपी अभिषेक यादव से की। जिसके उपरांत मामले की जांच एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गीय को दी गई। जांच में खालापार चौकी पुलिस की संलिप्तता पाई गई। जिसके उपरांत देर रात एसएसपी ने पांचों पुलिसकर्मियों को लाइनहाजिर कर दिया। एसएसपी अभिषेक यादव का कहना है कि शिकायत की जांच कराई गई थी। उसी के आधार पर कार्रवाई की गई है।

खबरें और भी हैं...