पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भाकियू भानू गुट जिलाध्यक्ष सहित 5 अरेस्ट:पुरकाजी थाना पहुंच रंगदारी का मुकदमा समाप्त कराने का डाल रहे थे दबाव

मुजफ्फरनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुजफ्फरनगर में भाकियू भानू गुट के जिलाध्यक्ष सहित 5 लोगों को हिरासत में लेकर चालान कर दिया। सभी पर रंगदारी का मुकदमा समाप्त कराने के लिए पुलिस पर दबाव बनाने का आरोप है। भाकियू भानू गुट के नेताओं की तीन गाड़ियां सीज की गई हैं। जिनसे तीन हूटर भी बरामद हुए। पुलिस ने गिरफ्तार सभी भाकियू नेताओं का आपराधिक रिकार्ड भी बताया है।

पुरकाजी थाने में पहुंच बजाया था गाड़ियों का हूटर

प्रभारी निरीक्षक थाना पुरकाजी ज्ञानेश्वर बौद्ध ने बताया कि शुक्रवार सायं भाकियू भानू गुट के लोगों ने पुरकाजी थाना पहुंचकर रंगदारी के एक मामले में पुलिस पर दबाव बनाया था कि मुकदमें को समाप्त कर दिया जाए। मौके पर सीओ सदर भी पहुंच गए थे। पुलिस से भाकियू भानू गुट के नेताओं की वार्ता होनी थी, लेकिन इस बीच थाने में खड़ी गाड़ियों से हूटर बजाकर पुलिस पर दबाव बनाने का प्रयास किया गया। जिस पर नाराज सीओ सदर ने तीन गाड़ियों को सीज कराकर पांच लोगों को हिरासत में ले लिया। मुकदमा दर्ज कर शनिवार को उनका चालान सरकारी कार्य में बाधा डालने, पुलिस से दर्व्यवहार आदि आरोपों में कर दिया गया। जबकि 6 अन्य कार्यकर्ताओं का चालान शांति भंग की धाराओं में किया गया।

भाकियू भानू गुट के इन नेताओं को किया गिरफ्तार

पुलिस के अनुसार थाना पुरकाजी परिसर में पुलिस पर दबाव बनाने तथा सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में भाकियू भानू गुट के जिलाध्यक्ष बलराम ठाकुर पुत्र देवेन्द्र सिह निवासी ग्राम रामपुर थाना छपार, शमशाद अहमद पुत्र सईद निवासी मौहल्ला झोझगान, असलम शेख पुत्र सिकन्दर एवं इस्तकार पुत्र इलियास निवासी मौहल्ला कानून गोयान एवं अरूण पुत्र रघुनाथ निवासी बुच्चा बस्ती थाना पुरकाजी काे गिरफ्तार कर उनका चालान कर दिया गया।

गिरफ्तार नेताओं की अपराधिक फेहरिस्त लंबी है

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किये गए भाकियू भानू गुट के नेताओं पर कई अपराधिक मुकदमें पहले से ही दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि जिलाध्यक्ष बलराम ठाकुर पर हत्या का प्रयास, धमकी मारपीट आदि की धाराओं में 8 मुकदमे दर्ज हैं। जबकि शमशाद, असलम शेख व अरुण पर भी कई मुकदमें दर्ज हैं।

खबरें और भी हैं...