पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57260.580.27 %
  • NIFTY17053.950.16 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47950-0.42 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62854-0.82 %

मुजफ्फरनगर...12 हजार की नकली करेंसी के साथ 3 गिरफ्तार:छापे थे 200 और 500 के नकली नोट, देते थे दोगुना करने का झांसा

मुजफ्फरनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुजफ्फरनगर कोतवाली क्षेत्र के रामलीला टिल्ला से नकली नोट की तस्करी का मामला प्रकाश में आया है। क्राइम ब्रांच पुलिस ने दोगुना का लालच देकर नकली नोट थमाने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को 12 हजार 200 रुपये की नकली करेंसी के साथ किया गिरफ्तार किया है। दबोचे गए बदमाशों में से एक उत्तराखंड तथा दो सहारनपुर के मूल निवासी है। तीनों बदमाश किराए के एक मकान में रहकर नकली नोट छापते थे।

सीओ ने दी आरोपियों की जानकारी

सीओ सिटी कुलदीप सिंह ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि पुलिस ने जाली करेंसी नोट छाप कर धोखाधड़ी करने वाले गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों में अनमोल हाल निवासी रामलीला टिल्ला मुजफ्फरनगर जबकी मूल निवासी ग्राम मतोली थाना देवबंद जिला सहारनपुर, अनिकेत निवासी गांव लकड़संधा मुजफ्फरनगर जबकि दीपक निवासी पनियाला थाना गंगानगर हरिद्वार उत्तराखंड शामिल है। बताया कि दबोचे गए बदमाशों से 200-200 के 21 व 500-500 के 16 जाली करेंसी नोट बरामद किए गए हैं।

इनके अलावा जाली करेंसी नोट छापने में काम आने वाले कलर प्रिंटर, नोटों की फोटो शीट आदि भी बरामद की गई है। एसपी सिटी कुलदीप सिंह ने बताया कि पुलिस इस रैकेट में शामिल अन्य बदमाशों का भी पता लगाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि दबोचे गए बदमाशों का चालान किया जा रहा है।

पहले भी सहारनपुर से जुड़े रहे हैं नकली करेंसी तस्करी के तार

मुजफ्फरनगर में नकली करेंसी की तस्करी के मामले पहले भी सामने आ चुके हैं। लेकिन हर बार तस्करी के तार सहारनपुर से ही जुड़े मिले। थाना छपार पुलिस ने 2017 में मुखबिर से मिले सुराग के बाद जबरदस्त कार्रवाई की थी। थाना क्षेत्र के गांव खुड्डा निवासी नबी हसन की निशानदेही पर पौने दो लाख कि भारतीय करेंसी बरामद की गई थी। जांच के दौरान सभी नोट नकली पाए गए थे।

नबी हसन से खुलासा हुआ था कि सहारनपुर जनपद के कस्बा देवबंद के गांव थितकी से नकली नोटों की तस्करी की जा रही थी। नबी हसन की निशानदेही पर छपार पुलिस व क्राइम ब्रांच ने गांव थीथकी में मुसर्रत पत्नी उस्मान के घर पर छापेमारी करते हुए कंप्यूटर, प्रिंटर तथा नकली नोट बनाने के लिए कागजों के रिम बरामद किए थे। जबकि मास्टरमाइंड मुसर्रत छापेमारी से पहले ही फरार हो गई थी।