पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

मुजफ्फरनगर में जिंदा को दिखाया मुर्दा:जमियत उलमा ने डीएम ऑफिस पर किया प्रदर्शन, कहा- 4 लोगों को मृत दिखा मतदाता सूची से नाम काटा

मुजफ्फरनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मतदाता सूची में गड़बड़ी किए जाने का आरोप लगाते हुए डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन करने पहुंचे जमियत उलमा के कार्यकर्ता। - Money Bhaskar
मतदाता सूची में गड़बड़ी किए जाने का आरोप लगाते हुए डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन करने पहुंचे जमियत उलमा के कार्यकर्ता।

मुजफ्फरनगर में मतदाता सूची में 4 लोगों को मृत दिखाकर उनका नाम मतदाता सूची से काट दिया गया। जमियत उलमा के सदस्यों ने आरोप लगाते हुए मंगलवार को डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया। उन्होंने मतदाता सूची के पुनरीक्षण में जिंदा लोगों को मृत दर्शाकर वोट काटने का आरोप लगाया। कहा, मतदाता सूची में काफी लोगों को शिफ्टेड या जिंदा को मृत दिखाकर उनके वोट काट दिए गए। मुख्य निर्वाचन आयुक्त को ज्ञापन भेजकर जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की मांग की गई।

जमियत उलमा जिला मुजफ्फरनगर के महासचिव कारी जाकिर हुसैन कासमी के नेतृत्व में 10 से अधिक लोगों ने डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया। मुख्य निर्वाचन आयुक्त को संबोधित शिकायत पत्र डीएम को सौंपा। पत्र में जमियत पदाधिकारियों ने कहा कि एक से 30 नवंबर तक मतदाता सूची में नाम जोड़ने, करक्शन और नाम काटने का कार्य चल रहा है। इसमें उनका संगठन पूरे प्रदेश में सहयोग कर रहा है।

जमियत उलमा ने बताया कि विभिन्न स्थानों पर मतदाता सूची में नाम जोड़वाने के दौरान यह मामला सामने आया कि किसी ने सैंकड़ों लोगों के बारे में झूठी आख्या पेश कर वोटर लिस्ट में लोगों को या तो शिफ्ट दर्शा दिया या जिंदा लोगों को मृत दिखाकर उनका वोट कटवा दिया। उन्होंने नगर के आजाद हाईस्कूल की भाग संख्या 29 पर 219 और भाग संख्या 59 पर 200 से अधिक मतदाताओं का नाम काटने समेत अन्य गलतियों का आरोप लगाया। उन्होंने चार जिंदा लोगों को मृत दिखाकर मतदाता सूची से नाम काटने का आरोप लगाया है।

वोटर लिस्ट में इन जिंदा लोगों को दिखाया मुर्दा
जमियत ने सूची जारी कर आरोप लगाया कि मो. फारूख कासमी, ऐजाज गाफिर, रियाज और हुस्नजहां को जिंदा होने के बावजूद मतदाता सूची में मृत दिखा दिया गया। जमियत की ओर से 25 ऐसे लोगों की सूची भी ज्ञापन के साथ मुख्य निर्वाचन आयोग को भेजी गई है, जिन्हें शिफ्टेड दिखाया गया है, जबकि वे अपने पुराने पते पर ही रह रहे हैं।

सूची में मृत दर्शाए गए रियाज ने कहा- मैं जिंदा हूं
मतदाता सूची में मृत दिखाए जाने का आरोप लगाते हुए रियाज ने कहा कि वह जिंदा है। उसने विगत लोकसभा चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग भी किया था। कहा कि उसे किसी साजिश के तहत मतदाता सूची में मृत दिखाया गया है।

खबरें और भी हैं...