पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

मुजफ्फरनगर.. चार दिसंबर को एसएसपी आफिस घेरेगी भाकियू तोमर:पुलिस थानों में भ्रष्टाचार का लगाया आरोप, एसओ थाना मंसूरपुर को हटाने की मांग

मुजफ्फरनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चार दिसंबर से एसएसपी आफिस पर धरना देकर पंचायत शुरू करने की जानकारी देते भकियू तोमर अध्यक्ष संजीव तोमर तथा अन्य पदाधिकारी। - Money Bhaskar
चार दिसंबर से एसएसपी आफिस पर धरना देकर पंचायत शुरू करने की जानकारी देते भकियू तोमर अध्यक्ष संजीव तोमर तथा अन्य पदाधिकारी।

भारतीय किसान यूनियन (तोमर) ने पुलिस पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए चार दिसंबर को एसएसपी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन करने की घोषणा की है। चेतावनी दी है कि जब तक भ्रष्टाचार के आरोपी एसओ थाना मंसूरपुर व कांस्टेबल को नहीं हटाया जाता धरना जारी रहेगा।

भारतीय किसान यूनियन (तोमर) अध्यक्ष चौ. संजीव तोमर ने एक रेस्टोरेंट में प्रेस वार्ता कर पुलिस पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए। कहा कि पुलिस की कार्यशैली के चलते प्रदेश की भाजपा सरकार की छवि धूमिल होती जा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि थाना पुलिस बड़े पैमाने पर क्रास केस दर्ज कर रही है। आरोप था कि रुपये लेकर मुकदमों से नाम निकाले जा रहे हैं और निर्दोष लोगों को फंसाया जा रहा है। उन्होंने थाना मंसूरपुर प्रभारी निरीक्षक पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। बताया कि कुछ दिनों पूर्व क्षेत्र के गांव पुरबालियान निवासी नईम उर्फ पोंटिंग को घर में तोड़फोड़ करते हुए रात के समय उठा लिया गया था। उसका गुनाह सिर्फ इतना था कि उसने पिस्टलनुमा लाईटर के साथ फेसबुक पर अपनी तस्वीर अपलोड कर दी थी। उसे 10 घंटे तक अवैध हिरासत में रखा गया। आरोप है कि छोड़ने के एवज में 50 हजार की मांग की गई। पोंटिंग के स्वजन ने थाना मंसूरपुर के एक कांस्टेबल को 20 हजार रुपये दिये। उसके बाद पोंटिंग को रिहा किया गया। भाकियू तोमर अध्यक्ष संजीव तोमर ने बताया कि 16 दिसंबर को थाना मंसूरपुर में संगठन के धरने के दौरान नईम उर्फ पोंटिंग ने इस बारे में प्रभारी निरीक्षक को जानकारी देकर 20 हजार वापस दिलाने की गुहार लगाई। प्रभारी निरीक्षक के कहने पर पोटिंग ने लाइटर नुमा पिस्टल भी पुलिस के सुपुर्द कर दिया। आरोप है कि उसी रात आरोपी कांस्टेबल ने घर में दबिश देकर पोंटिंग के परिजनों से गलत व्यवहार किया। जिसके बाद 18 नवंबर को पुलिस ने लाइटरनुमा पिस्टल नईम उर्फ पोंटिंग से बरामद दिखाकर शस्त्र अधिनियम में उसका चालान कर दिया। भाकियू तोमर अध्यक्ष संजीव तोमर ने कहा कि पुलिस गरीब लोगों पर ज्यादती कर रही है। ऐसे पुलिस कर्मियों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही। कार्रवाई की मांग को ही चार दिसंबर को एसएसपी आफिस पर पंचायत की जाएगी। वहीं पर भट्‌टी चढ़ेगी और मांग पूरी होने तक धरना जारी रहेगा। सेवानिवृत सीओ इंद्रजीत, जिलाध्यक्ष पवन त्यागी, निखिल चौधरी, प्रमोद शर्मा, मनीष मास्टर, हाजी शान मोहम्मद, साजिद आदि शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...