पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मिर्जापुर में वन महोत्सव का डीएम ने किया शुभारंभ:तैयार है 1.03 करोड़ पौधें, निशुल्क किया जा रहा वितरण

मिर्जापुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विंढम फाल में पौधारोपण करते जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार, पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साथ में प्रभागीय वनाधिकारी पी.एस. त्रिपाठी - Money Bhaskar
विंढम फाल में पौधारोपण करते जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार, पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साथ में प्रभागीय वनाधिकारी पी.एस. त्रिपाठी

मिर्जापुर में वन महोत्सव सप्ताह के तहत जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने पर्यटन स्थल विंढम फाल जल प्रपात उद्यान में सांकेतिक वृक्षारोपण किया। जिले के विभिन्न सरकारी नर्सरी पर 1 करोड़ 3 लाख पौधे वृक्षारोपण अभियान के लिए तैयार किया गया है। अभियान के तहत ग्राम पंचायत और संगठनों को निशुल्क वितरित किया जा रहा हैं।

आबादी के बीच हरियाली हैं जरूरत

पर्यटन स्थल पर पहुंचे जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने पौधरोपण किया। जिले में महोत्सव के तहत 7951990 पौध रोपित करने का लक्ष्य रखा गया है। अकेले वन विभाग और कैमूर वन्य प्रभाग 36 लाख 8787 पौधों को लगायेंगे। इतना ही नहीं उनके रक्षा के लिए रेंजर की निगरानी में टीमें गठित की गई है। घनी आबादी के बीच स्वस्थ रहने के लिए हरियाली की भी जरूरत है।

वन्य और जीवों के लिए जरूरी प्राणवायु

विश्व में आक्सीजन का सर्वाधिक महत्व आम आदमी ने कोरोना काल में महसूस किया था । जब विदेश की धरती से होकर कोरोना रूपी महामारी तांडव मचा रखा था । पीड़ित के परिवार के सामने आक्सीजन की व्यवस्था करना कठिन हो गया था । जेब में रुपयों का बंडल होने के बाद भी आक्सीजन नही मिल पा रहा था। तब लोगों को प्रकृति से मुफ्त मिलने वाले आक्सीजन की कीमत की समझ में आया था। उसी आक्सीजन की वृद्धि के लिए आयोजित वन महोत्सव सप्ताह जीवन में हरियाली बिखरने वाली होगी। जिसका लाभ वर्तमान के साथ ही आने वाली पीढ़ी को मिलेगा।

संपत्ति और शिक्षा के साथ पर्यावरण भी है धरोहर

प्रभागीय वनाधिकारी पी. एस. त्रिपाठी ने बताया कि विकास के तमाम बिंदुओं के बीच पर्यावरण की अनदेखी नहीं की जा सकती। आपदा के दौरान भविष्य के लिए वृक्ष लगाने का संकल्प तमाम लोगों ने लिया था। लेकिन विश्व के सामने चुनौती बने कोरोना का असर कम होने के साथ ही संकल्प भी कमजोर होने लगा। जिले में सरकारी आंकड़े के अनुसार 127 लोगों की मौत कोरोना के चलते हुई है। तब लोगों ने अपनो की उखड़ती सांसों को देख पौधरोपण का संकल्प लिया था। जिसको पूरा करने का समय आ गया है।

तीन दिन तक चलेगा विशेष पौधरोपण अभियान

प्रदेश स्तर पर हरियाली बिखरने के लिए तीन दिन तक विशेष अभियान चलाया जाएगा। इसके तहत् 35 करोड़ पौधरोपण का लक्ष्य रखा गया है। इसमें 5 से 7 जुलाई को विशेष रूप से पौधरोपण किया जाएगा। पहले दिन 5 करोड़ पौध रोपण होगा। दूसरे और तीसरे दिन इनकी संख्या ढ़ाई - ढ़ाई करोड़ वृक्ष लगाया जायेगा। स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को 15 करोड़ पौधरोपण भावी पीढ़ी की खुशहाली के लिए किया जायेगा।

खबरें और भी हैं...