पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लाखों घरों से जुड़ रही जल जीवन मिशन परियोजना:मिर्जापुर में अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने ली जानकारी, दिए उचित दिशा-निर्देश

मिर्जापुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायती राज विभाग मनोज कुमार सिंह ने अष्टभुजा निरीक्षण गृह के सभागार में ग्रामीण जन मानस को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए चल रहे जल जीवन मिशन के प्रगति की जानकारी ली। इस मौके पर जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार, मुख्य विकास अधिकारी श्रीलक्ष्मी वीएस, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे अमरेंद्र कुमार वर्मा, अधीक्षण अभियंता जल निगम सहित जल जीवन मिशन से सम्बन्धित अधिकारी व कार्यदायी संस्था के अधिकारी उपस्थित रहे।

जिले के 1,585 गांवों को मिलेगा लाभ
जिलाधिकारी ने बताया, जल जीवन मिशन का शुभारंभ जून 2022 में किया गया था। जिले की विकट भौगोलिक स्थिति को देखते हुए सतहीय एवं भूजल जल स्रोत पर आधारित 2088.89 करोड़ की लागत से 9 ग्राम समूह पाइप पेयजल योजनाओं का निर्माण 6 कार्यदायी संस्थाओं द्वारा किया जा रहा है। जिसके माध्यम से जनपद की 743 ग्राम पंचायतों के 1,585 ग्रामों में 3,56,856 घरों के 14,50,695 ग्रामीणों को इसका लाभ मिलेगा। बताया कि जनपद का अधिकांश क्षेत्र रॉक होने के कारण संरचनाओं के फाउंडेशन की खुदाई व एक मीटर गहराई में पाइप लाइन बिछाने में स्थिति से थोड़ा अधिक समय लग रहा है। परियोजना का कार्य प्रगति पर है।

अनुमति में हो रही देरी के कारण कार्य बाधित
बैठक में बताया गया, कार्यों के प्रगति में वन विभाग, एनएच की सड़कों एवं कुछ स्थानों पर रेलवे विभाग से अनुमति में हो रही देरी के कारण कार्य बाधित हो रहा है। विभागों द्वारा अनुमति प्राप्त हो जाए तो कार्य में तेजी लाई जा सकती है। अपर मुख्य सचिव द्वारा अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे को निर्देशित किया गया कि जिन कार्यदायी संस्थाओं ने जिस विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र के लिए आवेदन किया गया है, उसकी सूची पूरे विवरण सहित उपलब्ध करा दें। शासन स्तर से जल्द उसका निस्तारण कराया जा सके।

खबरें और भी हैं...