पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मड़िहान में करंट से अधेड़ की मौत:दीवार की तराई के लिए गया था टुल्लू चालू करने, परिवार में कमाने वाला था इकलौता सदस्य

मड़िहान, मिर्जापुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मड़िहान में रविवार को अधेड़ करंट की चपेट आ गया। परिजन उसे सीएचसी ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। - Money Bhaskar
मड़िहान में रविवार को अधेड़ करंट की चपेट आ गया। परिजन उसे सीएचसी ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

मड़िहान में रविवार सुबह अधेड़ करंट की चपेट में आ गया। परिजन उसे इलाज के लिए सीएचसी ले गए। डॉक्टरों ने जांच करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अधेड़ की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया।

मामला मड़िहान थाना क्षेत्र के हरिहरा गांव का है। यहां के राम जतन मौर्या शौचालय का निर्माण करवा रहा था। दीवार की तराई के लिए वह रविवार सुबह टुल्लू पम्प चालू करने गया। तभी करंट की चपेट में आ गया। काफी देर बाद जब वह नहीं लौटा तो परिजन देखने गए। टुल्लू के पास वह जमीन पर गिरा पड़ा मिला। परिजन उसे इलाज के लिए सामुदायिक स्वस्थ्य केंद्र मड़िहान ले गए, जहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

मड़िहान में करंट से अधेड़ की मौत हो गई। जानकारी होने पर अस्पताल में भीड़ जुट गई।
मड़िहान में करंट से अधेड़ की मौत हो गई। जानकारी होने पर अस्पताल में भीड़ जुट गई।

मजदूरी कर चलाता था घर का खर्चा

राम जतन परिवार में कमाने वाला इकलौता सदस्य था। वह मेहनत-मजदूरी कर परिवार का खर्चा चलाता था। राम जतन के तीन बच्चे हैं। उसने दो बच्चों का दिल्ली में एडमिशन कराया था, जबकि बेटी की शादी की तैयारी कर कर रहा था। राम जतन के मरने के बाद बच्चों की पढ़ाई लिखाई और गृहस्थी का खर्च पत्नी के कंधों पर आ गया।रामजतन की मौत से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

खबरें और भी हैं...