पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नरेश टिकैत की धमकी- जिंदा लोगों को आग लगा देंगे:किसान-पंचायत में बोले- विकास दुबे के परिवार जैसी गति नहीं होगी टिकैत खानदान की

मेरठ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत एक वीडियो में कह रहे हैं, "हम तो जिंदों में आग लगा देंगे। वह कह रहे हैं कि जो लोग टिकैत परिवार को विकास दुबे जैसा परिवार बनाकर मिटाना चाहते हैं, वो समझ लें कि हम उन जैसे नहीं हैं।"

मेरठ के ऊर्जा भवन में हुई किसानों की पंचायत में नरेश टिकैत ने अपने भाषण के बीच में ये शब्द सोमवार को कहे थे। हालांकि, तब किसी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। इसका वीडियो दैनिक भास्कर के पास है। आप खुद नरेश टिकैट के शब्दों में सुनिए उन्होंने क्या कहा...

हमारे खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करो, आग लगा देंगे

यह तस्वीर मेरठ की है, जहां आक्रोशित किसानों ने ट्यूबवेल पर लगे बिजली के मीटर निकालकर पीवीवीएनएल के एमडी कार्यालय में रख दिए हैं।
यह तस्वीर मेरठ की है, जहां आक्रोशित किसानों ने ट्यूबवेल पर लगे बिजली के मीटर निकालकर पीवीवीएनएल के एमडी कार्यालय में रख दिए हैं।

मेरे भी कानों में बात आई...
ये कह रहे थे कि टिकैत परिवार का तो आज।
वो कौन सा है, जो मरा था इन्होंने मध्यप्रदेश का आदमी... विकास दुबे। (टिकैत जिस विकास दुबे की बात कर रहे हैं, वह बिकरू गांव का गैंगस्टर था, जिसका दो साल पहले पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया था।)
ये कह रहे कि विकास दुबे बनाना है इस परिवार का।
हम ये कह रहे हैं कि हम जिंदा में आग लगवा देते हैं, कभी किसी और चक्कर में हों।
हमारे खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर दो, हम जिंदा में आग लगवा देते हैं, कुछ और सोच रहे हों।
जो इस तरह की बात करते हैं, जितने भेदभाव की ये लोग बात कर रहे हैं...जुबान ही काबू में नहीं आ रही।
मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी बढ़िया आदमी हैं, हम सम्मान करते हैं उनका, बैठ के बातचीत भी हो जाती है उनसे, फोन पर भी बातचीत हो जाती है। लेकिन ये तो बताएं भाई किसान के साथ में धोखा नहीं होगा।
मेयर बदल जाएं, अफसर बदल जाएं, पर किसानों की अनदेखी नहीं होनी चाहिए। साफ बात है कि किसानों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं होगी। किसानों की एक आवाज पर हम खड़े हैं, जो भी बात होगी किसानों के साथ हम पहले गोली खाएंगे।

महंगी बिजली के खिलाफ धरने पर हैं किसान

किसान पंचायत में महिलाएं भी शामिल हो रही हैं। किसानों की मांग है कि ट्यूबवेल पर जो मीटर लगाए गए हैं, उनको हटाया जाए।
किसान पंचायत में महिलाएं भी शामिल हो रही हैं। किसानों की मांग है कि ट्यूबवेल पर जो मीटर लगाए गए हैं, उनको हटाया जाए।

मेरठ के ऊर्जा भवन में महंगी बिजली और ट्यूबवेल पर मीटर लगाने के खिलाफ किसान शनिवार से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं। इसी धरने में किसान पंचायत को संबोधित करने नरेश टिकैत सोमवार को दोपहर में मेरठ आए थे। इसी दौरान उन्होंने ये बयान दिया है।