पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Meerut
  • The Woman, The Former Employee Of The Resort, Said That Outside Girls Would Have Been Brought There, Everything Including Alcohol Would Have Been Done.

अंकिता मर्डर केस, रिसॉर्ट की पूर्व कर्मचारी का बड़ा खुलासा:बोली- मंत्री का बेटा बाहर से लाता था लड़कियां, एक रात के वसूलते थे 5 से 10 हजार

मेरठ2 महीने पहलेलेखक: मनु चौधरी
  • कॉपी लिंक

उत्तराखंड में अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर रिसॉर्ट में काम कर चुकी पूर्व महिला कर्मचारी ने बड़ा खुलासा किया है। मेरठ की रहने वाली पूर्व महिला कर्मचारी ने बताया, 'रिसॉर्ट में नशे का धंधा चलता था। शराब भी लाई जाती थी। चरस और अफीम भी मिलती थी। रात में वॉट्सऐप पर कॉल की जाती थी। जिन लोगों को जैसी जरूरत होती थी। उन्हें लड़की भी मिलती थी।'

महिला ने बताया, 'एक रात के 5 हजार से 10 हजार रुपए तक वसूले जाते थे। मेरे ऊपर गलत काम करने का दबाव तो नहीं बनाया गया, लेकिन पुलकित और उसके साथियों की नीयत साफ नहीं थी। एक बार नौकरी छोड़ने के लिए कहा तो धमकाया गया और कहा कि यहीं से जेल भी भेजवा देंगे।'

यह फोटो रिसॉर्ट में काम कर चुकी महिला कर्मचारी की है। महिला ने कहा कि वहां दिन और रात में बाहरी लड़कियां आती थी।
यह फोटो रिसॉर्ट में काम कर चुकी महिला कर्मचारी की है। महिला ने कहा कि वहां दिन और रात में बाहरी लड़कियां आती थी।

अपने पति के साथ रिसॉर्ट में जॉब करने गई थी महिला
महिला ने बताया, 'मेरे पति मेरठ से हैं। मैं अपने पति के साथ पुलकित के वनंतरा रिसॉर्ट मई में जॉइन किया था, लेकिन जुलाई में नौकरी छोड़ दी थी। मैं रिसेप्शन पर और मेरे पति रूम चेकिंग का काम करते थे। पुलकित आर्य और उसका साथी अंकित कर्मचारियों के साथ गलत व्यवहार करते थे। शाम के बाद ऑफिस का काम खत्म करने के बाद यह सोचते थे कि मैं शाम को देरी से घर जाऊं। पुलकित आर्य ने एक बार स्टाफ से कहा था कि मुझे पति से अलग करे और उसके रूम में भेजे।'

यह फोटो महिला कर्मचारी और उनके पति की है। दोनों का कहना है कि उन्होंने करीब ढाई महीने तक पुलकित के रिसॉर्ट में काम किया था।
यह फोटो महिला कर्मचारी और उनके पति की है। दोनों का कहना है कि उन्होंने करीब ढाई महीने तक पुलकित के रिसॉर्ट में काम किया था।

नौकरी करने गई लेकिन उसकी हरकतें गलत थीं
महिला ने बताया, 'ढाई महीने तक नौकरी करने के बाद वह मेरठ अपने घर चली आई। नौकरी के दौरान अपने पति को भी कई बार बताया कि रिसॉर्ट में दिन और रात में बाहरी लड़कियां आती थी। उनकी रजिस्टर में कोई एंट्री नहीं होती थी। अलग-अलग लग्जरी गाड़ियों में लड़कियां लाई जाती थीं।'

यह फोटो मेरठ के पांडव नगर में महिला कर्मचारी के घर की है।
यह फोटो मेरठ के पांडव नगर में महिला कर्मचारी के घर की है।

नौकरी छोड़ी तो चोरी का आरोप लगाया
महिला कर्मचारी ने बताया, 'मैंने अपने पति को भी बताया था कि यहां की स्थिति ठीक नहीं है। हम नौकरी करने आए हैं। इससे तो अच्छा है मेरठ या दूसरे शहर में ही नौकरी कर लेंगे। जब ढाई माह नौकरी करने के बाद रिसॉर्ट से नौकरी छोड़ी तो सैलरी नहीं दी।

पति के साथ पुलकित के लोगों ने मारपीट की और चोरी का आरोप लगाया। धमकी देते हुए कहा कि यदि यहां से निकलने की कोशिश की तो जेल जाओगे। नौकरी छोड़ने के 15 दिन बाद तक कॉल आई, जिसमें कहा गया कि दोबारा से नौकरी पर आ जाओ तो हम रुकी हुई सैलरी भी दे देंगे।'

अब तक तीन गिरफ्तार
हत्याकांड में पुलकित समेत तीन आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया था कि पानी में दम घुटने से लड़की की मौत हुई है। साथ में यह भी पता चला है कि पानी में धक्का देने से पहले लड़की को किसी मोटी चीज से मारकर चोट पहुंचाई गई थी। शुरुआती रिपोर्ट में सेक्सुअल एब्यूज या रेप के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई थी।

यह फोटो पुलकित आर्य के रिसॉर्ट की है। शनिवार को रिसॉर्ट में आग लगा दी गई थी।
यह फोटो पुलकित आर्य के रिसॉर्ट की है। शनिवार को रिसॉर्ट में आग लगा दी गई थी।

हत्या का आरोप राज्य के पूर्व मंत्री विनोद आर्य के बेटे पुलकित पर है। 19 साल की अंकिता उसके रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट थी। प्रशासन ने पुलकित के रिसॉर्ट को बुलडोजर चलाकर ढहा दिया। शनिवार को गुस्साए लोगों ने उसमें आग लगा दी थी।

रिसॉर्ट में अनैतिक गतिविधियों पर झगड़े के बाद हत्या

यह फोटो उत्तराखंड के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य (बाएं) और मृतक अंकिता भंडारी (दाएं) की है।
यह फोटो उत्तराखंड के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य (बाएं) और मृतक अंकिता भंडारी (दाएं) की है।

पुलिस ने FIR में दर्ज किया है कि अंकिता भंडारी 18 सितंबर से गायब थी। इसके बाद उसके पिता ने रिसॉर्ट पहुंचकर कर्मचारियों से पूछताछ की थी। बेटी का पता नहीं चलने पर उन्होंने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। अंकिता 17 सितंबर की रात करीब 8 बजे पुलकित आर्य, उसके रिसॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और अंकित उर्फ ​​पुलकित गुप्ता के साथ ऋषिकेश गई थी।

वापस आते समय तीनों आरोपियों ने चीला रोड के किनारे शराब पी। अंकिता उनके ड्रिंक खत्म होने का इंतजार करती रही। शराब पीने के बाद तीनों लड़की से झगड़ने लगे। हाथापाई में अंकिता ने पुलकित का मोबाइल भी नहर में फेंक दिया था। इस दौरान अंकिता ने रिसॉर्ट में अनैतिक गतिविधियों का विरोध किया था। उसने धमकी भी दी कि वह सभी को यहां चलने वाली अनैतिक गतिविधियों के बारे में बता देगी। आरोप है कि इस बात से गुस्साए पुलकित और उसके साथियों ने लड़की को नहर में धकेल दिया।

खबरें और भी हैं...