पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अग्निवीर के अभ्यर्थियों से वसूलने वाला सेना का जवान अरेस्ट:मिलिट्री इंटेलिजेंस के इनपुट पर STF ने मेरठ से पकड़ा, पुणे में तैनात है आरोपी

मेरठ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसटीएफ मेरठ ने आर्मी में तैनात हेड कांस्टेबल नरेश को गिरफ्तार किया है। यह फोटो एसटीएफ ने जारी किया है। - Money Bhaskar
एसटीएफ मेरठ ने आर्मी में तैनात हेड कांस्टेबल नरेश को गिरफ्तार किया है। यह फोटो एसटीएफ ने जारी किया है।

मिलिट्री इंटेलिजेंस के इनपुट पर मेरठ STF ने सेना के एक जवान को गिरफ्तार किया है। जिससे पूछताछ में पता चला है कि यह अपने अन्य साथियों के साथ अग्निवीर सेना में भर्ती होने वाले जवानों से मोटी रकम वसूल रहा था। आरोपी को STF ने मिलेट्री क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। जिसके मोबाइल में कुछ संदिग्ध नंबर मिले हैं। STF मेरठ के अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश सिंह आरोपी से पूछताछ कर रहे हैं।

प्रत्येक उम्मीदवार से 5 लाख रुपए

STF मेरठ के अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि मिलेट्री इंटेलीजेंससे इनपुर मिला था कि सेना अग्निवीर भर्ती में कुछ लोग युवाओं से मोटी रकम वसूली में लगे हैं। एसपी STF कुलदीप नारायण के निर्देश पर STF की टीम ने मुखबिर की सूचना पर नरेश पुत्र सूरजपाल निवासी गांव मसौता थाना मसूरी जिला गाजियाबार को अरेस्ट किया है।

एसटीएफ मेरठ के अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार सिंह
एसटीएफ मेरठ के अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार सिंह

जिसके पास से एक मोबाइल फोन, सेना का कार्ड, अग्निवीर भर्ती से संबंधित कागजात और एक हजार रुपये भी बरामद किए हैं। जिसके मोबाइल के नंबरों की भी जांच की जा रही है। प्रत्येक उम्मीदवार को सेना भर्ती अग्निवीर मे भर्ती कराने के नाम पर 5 पांच लाख रुपये में सौदा हुआ। ढाई ढाई लाख रुपये एडवांस भी लिए जा रहे थे।

पुणे में तैनात है आरोपी जवान

एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि आरोपी नरेश ने पूछताछ में बताया कि मैं 2009 में सेना में भर्ती हुआ। इस समय सिग्नल कोर हेड क्वार्टर- 3 ईडब्लू ब्रिगेड पुणे में हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात हूं।

आरोपी जवान ने बताया कि अपने भाई साैरभ व तनुुज निवासी मोरपुर जिला हापुड़ और संदीप निवासी गायत्री नगर शाहजहांपुर जिला हापुड़ के साथ मिलकर फर्जी तरह से नौकरी की तलाश कर युवकों को भ्रमित कर युवकों से पैसा वसूल रहा था। मैं सेना में हूं इसलिए युवक मेरे झांसे में आ जाते थे।