पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एक बाइक एक स्कूटी से संदेश देगा वैश्य समाज:मेरठ में 25 सितंबर को अग्रसेन जयंती पर समाज की ओर से होगा भव्य आयोजन

मेरठ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मेरठ में अग्रवाल समाज की तरफ से महाराजा अग्रसेन की जयंती के अवसर पर एक बाइक एक स्कूटी यात्रा का आयोजन किया जाएगा। वैश्य समाज 25 सितंबर को एक बाइक, एक स्कूटी रैली का आयोजन करेगा। रैली पीवीएस मॉल से प्रारंभ होकर शहर में घूमेगी। रैली को अग्रसेन जयंती की पूर्व संध्या को आयोजित किया जाएगा।

एक रुपया एक ईंट का संदेश

दीपक गुप्ता, अध्यक्ष वैश्य समाज मेरठ
दीपक गुप्ता, अध्यक्ष वैश्य समाज मेरठ

वैश्य समाज के अध्यक्ष दीपक गुप्ता ने बताया अग्रसेन जयंती की पूर्व संध्या पर हम ये वाहन रैली निकाल रहे हैं। महाराजा अग्रसेन का ध्येय वाक्य था एक रुपया एक ईंट। यानि समाज का जो भी व्यक्ति परेशान है उसकी मदद के लिए अगर हर आदमी केवल एक रुपया और एक ईंट का दान करेगा तो वो उस परेशान व्यक्ति की आसानी से मदद कर सकता है। इस तरह वैश्य बंधु कभी अकेला नहीं पड़ेगा। बहुत कम संसाधनों में उसकी मदद हो जाएगी यानि एकता में रहना। युवा पीढी को महाराजा श्री के इसी उद्देश्य से परिचित कराने के लिए ये वाहन रैली होगी। जिसमें एक बाइक एक स्कूटी का नारा हमने दिया है।

अब जानिए इस वाहन रैली का रूट

25 सितंबर यानि अग्रसेन जयंती की पूर्व संध्या पर यह वाहन रैली होगी। रैली मेरठ के पीवीएस मॉल से शाम 5 बजे शुरू होगी। जो शास्त्रीनगर, गांधी आश्रम, फूलबाग, बेगमपुल होते हुए सदर धनेश्वर चौक पर संपन्न होगी। यहां महाराज अग्रसेन की मूर्ति पर महाआरती का आयोजन किया जाएगा। शाम 7बजे महाराजा श्री की आरती की जाएगी।

हर घर अग्र पताका का अभियान
वाहन रैली में भाग लेने वाले हर बाइक, स्कूटी पर अग्र समाज की पताका लगाई जाएगी। महाराजा श्री के संदेश एक ईंट एक रुपया के झंडे, स्टीकर, बैच बनाए हैं। रैली में आने वाले लोगों को ये स्टीकर, झंडे, बैनर दिए जाएंगे। रैली के बाद इन झंडों को हर अग्रबंधु अपने घर पर लगाएगा। ताकि अग्रसेन जयंती के दिन हर अग्रबंधु के घर पर अग्रवाल समाज की पताका हो।

वाहन रैली में शामिल होने के ये हैं नियम
. वाहन रैली में हेलमेट अनिवार्य है बिना हेलमेट एंट्री नहीं होगी।
. केवल डीएल धारक वाहन चालक ही रैली में आएंगे
. 18 साल से कम आयु के चालकों को वाहन चलाने की अनुमति नहीं होगी
. रैली में महिलाएं, युवतियां, युवक, बुजुर्ग भाग ले सकते हैं