पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुख्तार अंसारी की पत्नी की मुश्किलें बढ़ी:पुलिस ने गिरफ्तारी के लिए गठित की टीम, दलित की जमीन पर किया था कब्जा

मऊएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बाहुबली मुख्तार अंसारी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है, जहां एक तरफ उन्हें कोर्ट से एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। ताजा घटनाक्रम में गैंगेस्टर के एक मामले में उनकी अफशा अंसारी और दो सालों की मुश्किल बढ़ती नजर आ रही हैं। दरअसल, मऊ की गैंगेस्टर कोर्ट ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है, जिसके बाद से पुलिस बाहुबली की पत्नी और सालों की गिरफ्तारी के लिए एक्टिव हो गई है। इस बात की जानकारी मऊ पुलिस अधीक्षक सुशील धुले ने दी है।

जानकारी देते मऊ पुलिस अधीक्षक सुशील धुले।
जानकारी देते मऊ पुलिस अधीक्षक सुशील धुले।

दलित की जमीन पर जबरन कब्जा कर बनवाया था गोदाम
दरअसल, मुख्तार अंसारी की पत्नी और सालों पर आरोप है कि उन्होंने दलित जाति के लोगों की जबरन कब्जा कर लिया था और उस पर एफसीआई (FCI) गोदाम बनवाया था, जिसके बाद जिला प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए गोदाम को कुर्क किया था और बुल़डोजर चलवाकर जमीन को कब्जा मुक्त कराया गया था। यह संपत्ति मुख्तार की पत्नी और दो सालों के नाम पर थी। जिसके बाद प्रशासन ने माफिया की पत्नी और उसके साले के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया और गैंगेस्टर के तहत कार्रवाई करते हुए इस सभी आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल किया था। इसी मामले में बुधवार को गैंगस्टर की विशेष अदालत कोर्ट रामराज ने सुनवाई की और अफशा अंसारी और गाजीपुर निवासी शाहिद रजा और अनवर शहजाद के खिलाफ वारंट जारी किया है।

दलित की जमीन पर किया था जबरन कब्जा
दलित की जमीन पर किया था जबरन कब्जा

मऊ पुलिस अधीक्षक बोले- जल्द होगी अफशा अंसारी की गिरफ्तारी
मऊ पुलिस अधीक्षक सुशील धुले का बताया कि अफशा अंसारी और उनके दो सालों को गिरफ्तार करने के लिए सर्विलांस तथा पुलिस की टीमों को गठित कर सक्रिय कर दिया गया है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार करके कोर्ट के सामने प्रस्तुत कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...