पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ज्ञानवापी मामले पर एक्शन में रैपिड एक्शन फोर्स:मधुबन में कस्बा और दोहरीघाट में पैदल घूमकर लिया जायजा, एक हफ्ते तक रहेगी विशेष तैनाती

मधुबनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मऊ के मधुबन में ज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे को लेकर सियासत गर्म है। हालांकि इस मामले में अभी कोर्ट का निर्णय आना शेष है। फैसले के बाद किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड पर नजर आ रहा है।

आरएएफ ने किया निरीक्षण

इसी बीच गुरुवार को रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) द्वारा जनपद के मधुबन तहसील क्षेत्र के दोहरीघाट एंव मधुबन थाना क्षेत्र में कई स्थानों पर फ्लैग मार्च कर शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की गई। इस दौरान टीम द्वारा दोनों थानों यानी दोहरीघाट एंव मधुबन पहुंचकर निरीक्षण भी किया गया।

रैपिड एक्शन फोर्स के कमांडेंट केशव मिश्रा ने बताया कि, प्रदेश सरकार द्वारा मऊ जनपद में रैपिड एक्शन फोर्स को एक सप्ताह के लिए तैनात किया गया है। इस दौरान टीम जनपद के विभिन्न थाना क्षेत्रों में फैमिलेराइजेसन एंव एक्सरसाइज की जाएगी। लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की जाएगी। किसी भी प्रकार की स्थिति से निपटने के लिये टीम पूरी तरह तैयार रहेगी।

बता दें कि, रैपिड एक्शन फोर्स की गिनती देश की अग्रणी दंगा नियंत्रण फोर्स में होती है। यह सीआरपीएफ का एक विशेष प्रशिक्षित दस्ता है, जिसे दंगा और दंगे जैसी स्थितियों से निपटने के लिए तैयार किया जाता है।आवश्यकता पड़ने पर संवेदनशील स्थानों पर इस फोर्स की तैनाती की जाती है। गुरुवार को किए गए अभ्यास का नेतृत्व पीएमजीएस कमांडेंट केशव मिश्रा द्वारा किया गया। रूट मार्च में बड़ी संख्या में रैपिड एक्शन फोर्स के जवान शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...