पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मधुबन में विकास कार्यों में अनियमितता का उठा मामला:अनियमितता का आरोप लगाते हुए 5 क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने बीडीओ को सौंपा ज्ञापन

मधुबनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मधुबन में वित्तीय वर्ष 2021-22 में क्षेत्र पंचायत फतहपुर मंडाव में कराए गए विकास कार्यों में अनियमितता का आरोप लगाते हुए विकास खंड फतेहपुर मंडाव के पांच क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने बीडीओ जयेश कुमार सिंह को ज्ञापन सौंपा है। उन्होंने जांच कर कार्रवाई की मांग की है।

क्षेत्र पंचायत सदस्य गुड्डू गौतम, अरविंद चौहान, शैल कुमारी, ललिता का आरोप है कि वित्तीय वर्ष 2020-21 एवं 2021-22 में कराए गए कार्यों एवं सामग्री अंश में करोड़ों रुपये का भुगतान किया गया है। जबकि लेबर भुगतान शून्य है। जिससे मनरेगा मजदूर भुखमरी के कगार पर हैं।

क्षेत्र पंचायत के सत्र 2021-22 एवं 2022- 23 के लिए हुई बैठक में बीडीसी सदस्यों के बैठक मानदेय के भुगतान का मुद्दा उठाया गया था, लेकिन अब तक भुगतान नहीं मिला। साथ ही उस धन का गोलमाल कर दिया गया।वर्तमान सत्र 2023-23 में पूर्व टेंडर के आधार पर ही कार्य कराया जा रहा है। वहीं 23 अप्रैल 2022 को ब्लॉक सभागार में बिना ब्लॉक प्रमुख की उपस्थिति के ही बैठक का कोरम पूर्ण किया गया, जो कि अवैधानिक एवं क्षेत्र पंचायत सदस्यों का अपमान है।

बीडीओ ने निष्पक्ष जांच का दिया आश्वासन।
बीडीओ ने निष्पक्ष जांच का दिया आश्वासन।

इस दौरान बीडीसी सदस्यों ने मांग किया कि उक्त प्रकरण की जांच कर क्षेत्र पंचायत द्वारा सरकारी धन के बंदरबाट को रोका जाए, अन्यथा हम सब क्षेत्र पंचायत सदस्य उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। बीडीओ फतेहपुर मंडाव जयेश कुमार सिंह ने कहा कि क्षेत्र पंचायत सदस्यों द्वारा ज्ञापन में की गई शिकायतों की निष्पक्ष जांच कराई जाएगी। यदि कोई दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ विधिक कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने क्षेत्र पंचायत सदस्यों को न्याय का पूरा भरोसा दिलाया।

खबरें और भी हैं...