पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मैनपुरी में विरोध के बाद वापस लौटा बुलडोजर:ईशन नदी के डूब क्षेत्र में अवैध निर्माण ढहाने गया था, महिलाओं ने किया हंगामा तो टीम लौटी बैरंग

मैनपुरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मैनपुरी में डूब क्षेत्र में अवैध निर्माण को तोड़ने पहुंचे बुलडोजर को महिलाओं के विरोध के चलते वापस जाना पड़ा। दरअसल, प्रापर्टी डीलरों ने ईशन नदी के डूब क्षेत्र में अवैध प्लाटिंग कर प्लाट काट दिये थे। जिसके बाद यहां कई मकान बन गये तो कई की नींव पड़ रही है। इसी अवैध निर्माण को तोड़ने के लिये अधिकारी अपने साथ बुलडोजर लेकर आये थे लेकिन विरोध के चलते उन्हें उल्टे पांव वापस जाना पड़ा।

तोड़फोड़ होते ही महिलाएं हो गई इकट्ठा

सुबह सुबह जैसे ही बुलडोजर कालोनी में पहुंच कर निमार्ण को तोड़ने लगा तो कई महिलाएं इकट्‌ठा हो गई। जिसके बाद सभी ने एक सुर में कार्रवाई का विरोध करना शुरू कर दिया। हालांकि, अधिकारियों ने महिलाओं को समझाने की कोशिश की लेकिन वह किसी की बात सुनने को तैयार नहीं थी। महिलाओं का कहना था कि मेहनत की कमाई से बनाई गये मकान को क्यों टूटने दें। उनका कहना था कि जब यहां अवैध प्लाटिंग हो रही थी तभी क्यों नहीं रोका गया।

टीम से हुई अभद्रता तो वापस लौटी टीम

मैनपुरी में शहर से निकली ईशन दिन नदी के किनारे प्रतिबंधित डूब क्षेत्र में कई अवैध कालोनियां काट दी गई है। जिसमें कई मकान बन कर खड़े हुए हैं। कुछ अधूरे और कुछ की निहास पढ़ रही हैं। सरकार की मंशा अनुसार सरकारी जमीन अवैध कब्जा धारकों से मुक्त कराई जा रही है। जिसके चलते चांदेश्वर मंदिर के पीछे डूब क्षेत्र में किए गए अवैध निर्माण को ध्वस्त करने के लिए एसडीएम नवोदिता शर्मा,अवर अभियंता विनियमित क्षेत्र एसके प्रजापति,ईओ नगर पालिका लालचंद भारती और लेखपाल राजीव कुमार दुबे और मनोज गुप्ता टीम सहित बुलडोजर लेकर मौके पर पहुंचे। हालांकि, मौके की नजाकत को समझते हुए एसडीएम नवोदिता शर्मा ने टीम को वापस लौटने के निर्देश दिए।

खबरें और भी हैं...