पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मैनपुरी में झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से बच्चे की मौत:पेट दर्द होने पर झोलाछाप के यहां ले गए परिजन, इंजेक्शन लगाते ही होने लगी उल्टियां, कुछ घंटों में हो गई मौत

मैनपुरी9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मैनपुरी में झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से बच्चे की मौत। - Money Bhaskar
मैनपुरी में झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से बच्चे की मौत।

मैनपुरी जिले के बिछबा थाना क्षेत्र में एक 11 वर्षीय बालक की मौत हो गई। परिजनों ने एक झोलाछाप डॉक्टर पर गलत इलाज करने का आरोप लगाकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। वहीं पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

गांव में डॉक्टर के यहां चल रहा था इलाज

दरअसल, पूरा मामला थाना बिछबा क्षेत्र के जमथरी गांव का है। यहां के रहने वाले संजीव कुमार के 11 वर्षीय बेटे देव की मौत हो गई। पड़ोसी अनिल के मुताबिक बच्चे का गुरुवार दिन में तीन बजे पेट दर्द हुआ था, जिसके बाद हम लोग उसे गांव में ही क्लीनिक चला रहे डॉ. हरीश के पास ले गए।

इलाज के दौरान बच्चे को हुई उल्टियां

पड़ोसी के मुताबिक, डॉक्टर हरीश, देव को एक इंजेक्शन लगा कर बोतल चढ़ाने लगे, जिससे देव को उल्टियां होने लगीं. कुछ देर बाद फिर वही बोतल लगाकर चढ़ाने लगे, जो रात के 11 बजे तक चढ़ती रही। इसके बाद बच्चे की तबीयत और बिगड़ गई।

परिजनों ने पुलिस से की शिकायत

आनन-फानन में परिजन देव को लेकर जिला चिकित्सालय मैनपुरी पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. देव, संजीव कुमार का इकलौता बेटा था. अब परिजनों ने डॉक्टर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. परिजनों ने शिकायत की है. रिपोर्ट आने के बाद दोषियों पर कार्रवाई होगी.

खबरें और भी हैं...