पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महोबा में विकास कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक:डीएम ने मंडी सचिव के विरूद्ध कार्रवाई के दिये निर्देश, कहा- विकास कार्यों की कमेटी बनाकर करें जांच

महोबा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महोबा। जिलाधिकारी मनोज कुमार की अध्यक्षता में विकास कार्यों एवं 50 लाख से अधिक लागत की परियोजनाओं की मासिक समीक्षा बैठक विकास भवन सभागार में आयोजित हुयी। बैठक में जिलाधिकारी ने विभागवार समीक्षा के दौरान शिक्षा विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी स्कूलों में शुद्ध पेयजल, शौचालय, लाइट एवं नमामि गंगे योजनान्तर्गत हर घर नल योजना के तहत जनपद के सभी विद्यालयों में पेयजल कनेक्शन होना अनिवार्य है।

शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए निर्देश

उन्होनें कहा कि जनपद में 137 विद्यालयों में मानक के अनुसार शिक्षक तथा अन्य सुविधायें मौजूद हैं। जबकि 37 ऐसे विद्यालय हैं जिनमें एक शिक्षक अधिक हैं। इन शिक्षकों को जहां शिक्षक कम हो वहां पर तैनात किया जाये। इसी क्रम में पशुपालन विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को एडवरसेंटी देते हुए शत-प्रतिशत टीकाकरण हेतु निर्देशित किया तथा कार्य में लापरवाही बरतने पर मंडी सचिव गौरव सिंह पर विभागीय कार्रवाई करने हेतु मुख्य विकास अधिकारी से कहा। उन्होनें कृृषि विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री किसान सुरक्षा बीमा योजना तथा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमा कराने हेतु सभी कृृषकों को जागरूक किया जाये।सब्सिडी वाली योजनाओं का कोई भी विभाग आधार लिंक कराये बिना किसी भी लाभार्थी को लाभान्वित नहीं करेगा।

कमेटी बनाकर जांच करने के लिए कहा गया

जिलाधिकारी ने समाज कल्याण विभाग की समीक्षा में शादी अनुदान योजना, छात्रवृृत्ति योजना तथा अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करने हेतु जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया। उन्होनें कहा कि कोविड-19 महामारी में निराश्रित हुए बच्चों को आर्थिक सहायता के तहत एक माता-पिता के 02 बच्चों तक प्रति बच्चा 2500-रूपये प्रति माह समाज कल्याण विभाग से दिया जायेगा। उन्होंने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत कराये गये विकास कार्यों की कमेटी बनाकर जांच कराने हेतु मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया।

72 घंटे के अंदर करें सूचित

फसल बीमा योजना से बीमित कृृषक को फसल खराब होने की स्थिति में 72 घंटे के अंदर बीमा कम्पनी एवं सम्बन्धित बैंक को अवश्यक सूचित करें। श्रम विभाग को पंजीकृृत श्रमिकों के श्रम कार्ड से आयुष्मान कार्ड बनवाने के निर्देश दिए।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ. हरिचरन सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सुधाकर पाण्डे, परियोजना निदेशक चित्रसेन सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी संतोष कुमार सहित विकास कार्यों से जुडे समस्त अधिकारी कर्मचारीगण मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...