पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57491.51-2.62 %
  • NIFTY17149.1-2.66 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486500.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)64467-0.29 %

महोबा में सहकारी समितियों के सचिव ने की हड़ताल:एग्री जक्शन व पीसीएफ केंद्रों पर हो रहा वितरण, निजी दुकानों से खाद खरीद रहे किसान

महोबा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महोबा में के सचिव की हड़ताल के चलते बंद पड़ी है सहकारी समितिया। - Money Bhaskar
महोबा में के सचिव की हड़ताल के चलते बंद पड़ी है सहकारी समितिया।

महोबा में 1 नवंबर से विभिन्न मांगों को लेकर सहकारी समितियों के सचिव ने हड़ताल कर रखी है। ऐसे में एग्री जक्शन व पीसीएफ केंद्रों पर खाद का वितरण हो रहा है। कई किसान उन सेंटरों पर पहुंच नहीं पा रहे हैं। ऐसे में वह प्राइवेट दुकानों से 200 से 300 रुपए ज्यादा देकर डीएपी की बोरी ले रहे हैं।
जिले में आ चुकी है 650 एमटी खाद
जिले में 650 एमटी खाद आ चुकी है। फिर भी किसानों की परेशानी खत्म नहीं हुई है। क्यूंकि समितियों में हड़ताल है। सचिवों की हड़ताल से जिले के पीसीएफ, सहकारी संघ के करीब 15 सेंटर पर ही खाद मिल पा रही है। शनिवार को चरखारी के पीसीएफ, पनवाड़ी के देवगनपुरा में क्रय विक्रय व कुलपहाड़ में सहकारी संघ, जैतपुर तथा कबरई के सेंटर पर खाद दोपहर के बाद वितरित हुई। यहां किसानों की भीड़ होने के कारण पहले कूपन की व्यवस्था रही बाद में खाद वितरण हुआ।
1400 से 1500 रूपए में बिक रही बोरी
वहीं अजनर, महोबकंठ, पनवाड़ी के कई गांव के किसान प्राइवेट दुकानों से डीएपी खाद ले रहे हैं। सरकारी रेट 1200 रुपए प्रति बोरी है। डीएपी खुले बाजार में 1400 से 1500 रुपए में बिक रही है। पिछले दिनों कबरई, पनवाड़ी में दुकानदारों को चेतावनी भी दी गई थी।