पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow
  • UP Election 2022 The Daughter in law Of The Yadav Household Wanted A Job In The Corporate Industry; Today Kannauj MP, Know What Will Happen After 20 Years

कल, आज, कल (दैनिक भास्कर की विशेष सीरीज):इस बहू को कॉरपोरेट इंडस्ट्री थी पसंद ; जानिए 20 साल बाद का भविष्य

लखनऊ4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

न न करके राजनीति में आने वाली डिंपल यादव कन्नौज की पूर्व सांसद हैं। परिवारवाद की परिपाटी वाले यादव परिवार में वो सबसे मजबूत महिला चेहरा हैं। ज्योतिष की निगाह से देखें तो डिंपल 20 साल बाद यूपी कैबिनेट में मंत्री हो सकती हैं। महिलाओं के रोजगार के लिए बड़ा मंच भी तैयार करेंगी। दैनिक भास्कर की विशेष सीरीज 'कल, आज, कल' प्रस्तुति के लिए मशहूर ज्योतिषाचार्य नस्तूर बेजान दारुवाला ये भविष्यवाणी करते हैं।

वो कहते हैं कि उनकी कुंडली में चंद्र के साथ केतु बैठा है। ये बहुत अच्छा नहीं है। स्वभाव पर नियंत्रण रखते हुए उन्हें काम करने चाहिए। धनराशि में शुक्र होने से उनकी शादी राजनीति में बड़ी पहचान रखने वाले परिवार में हुई। इसी योग की वजह से महिलाओं को मजबूती देने वाले काम करेंगी।

उनकी कुंडली में सूर्य मकर राशि में है। यूरेनस मीन राशि में और नेपच्यून वृश्चिक राशि में हैं। ये बताता है कि ऐसे जातक दिखने में दुबले-पतले होते हैं, लेकिन इनका मनोबल बहुत मजबूत होता है। प्लूटो कन्या राशि में हैं। ये अपने पति के लिए ढाल की तरह काम करेंगी। अखिलेश की हर जीत में डिंपल का 50% योगदान माना जा सकता है।

वह कहते हैं कि 20 साल में उनकी केंद्र सरकार में कोई भूमिका नहीं दिखती है। हालांकि, वह यूपी कैबिनेट में मंत्री जरूर बन सकती हैं। महिला सशक्तिकरण के लिए काम करेंगी। जन्म के समय सूर्य खुद की मकर राशि में था। ऐसे जातक उच्चतम पदों तक जाते हैं। कह सकते है कि अखिलेश की असली ताकत उनकी पत्नी हैं। बिना उनके वो अधूरे हैं।

विधानसभा चुनाव 2022 में भास्कर प्रतिदिन दिग्गज नेताओं के कल, आज, कल के बारे में आपको बताएगा। इस प्रस्तुति में आने वाले कल में डिंपल यादव की तस्वीर को फोटोशॉप की मदद से तैयार किया गया है।

  • वह उत्तराखंड के के उधमसिंहनगर में पैदा हुई थीं।
  • पिता आरसी सिंह रावत भारतीय सेना में पूर्व कर्नल हैं।
  • उनकी शुरुआती पढ़ाई पुणे में हुई थी।
  • उन्हें घुड़सवारी करना, किताबें पढ़ना, चित्रकारी करना पसंद है।
  • वो कॉरपोरेट वर्ल्ड में अपना करियर बनाना चाहती थीं।
  • लखनऊ विश्वविद्यालय से उन्होंने बीकॉम किया।
  • यहीं उनकी अखिलेश यादव से मुलाकात हुई।
  • 24 नवंबर 1999 को अखिलेश से उनकी शादी हुई।
  • कहते है कि मुलायम सिंह यादव इस शादी के खिलाफ थे।
  • अमर सिंह के समझाने के बाद अखिलेश की शादी को राजी हुए थे।
  • राजनीति में आने से पहले डिंपल व उनके परिवार पर आय से अधिक संपत्ति का केस भी चला।
  • उनके तीन बच्चे हैं। अर्जुन, अदिति और टीना यादव।
  • 2009 में अखिलेश की जिद पर फिरोजाबाद से लोकसभा का उपचुनाव लड़ा, लेकिन हार गईं।
  • 2012 में वह कन्नौज लोकसभा क्षेत्र से सांसद चुनी गईं।
  • डिंपल भाषण देना पसंद नहीं करती हैं। वह लोगों से बातचीत करती हैं।
  • यादव कुनबे के दंगल के बाद डिंपल उभरकर सामने आईं।
  • यूपी चुनाव में उन्होंने अपने पति, परिवार और पार्टी के लिए प्रचार किया।
  • सपा की सोशल मीडिया कैंपेनिंग देखने का जिम्मा भी डिंपल पर था।
  • ये डिंपल की मौजूदगी ही है, जिसने अखिलेश-डिंपल को 'यूपी का पॉवर कपल' बना दिया।
  • 2022 के विधानसभा चुनाव में वह अखिलेश के लिए डिजिटल प्रचार की बागडोर संभाल रही हैं।
खबरें और भी हैं...