पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

NIA की 5 संदिग्धों पर नजर:लखनऊ से पकड़े गए संदिग्ध आतंकियों के मददगार के रूप में चिह्नित, जम्मू कश्मीर में लगातार चल रही

लखनऊ7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एनआइए टीम छापेमारी करती हुई- फाइल फोटो - Money Bhaskar
एनआइए टीम छापेमारी करती हुई- फाइल फोटो

लखनऊ से पकड़े गए संदिग्ध आतंकियों के मददगारों की तलाश में (नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी) NIA जम्मू कश्मीर में लगातार सर्च ऑपरेशन चला रही है। 3 दिन की छानबीन में NIA ने 5 संदिग्धों को चिह्नित किया है। यह सब युवाओं को देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के लिए बरगला रहे थे।

ATS ने जुलाई में लखनऊ से आतंकी मिनहाज और मसरूद्दीन को गिरफ्तार किया था। इनकी निशानदेही पर 14 जुलाई को शकील, मुस्तकीम व मुईद को पकड़ा गया था। इनका एक साथी दिल्ली से गिरफ्तार हुआ था, जो यूपी में बलरामपुर के उतरौला का रहने वाला था। पूछताछ में पता चला था कि यह सभी खूंखार आतंकी संगठन अलकायदा के इंडियन सबकांटीनेंट (AQIS) समर्थित गजवातुल हिंद से जुड़े हैं।

इसे पाकिस्तान में बैठकर उमर हलमण्डी ऑपरेट कर रहा है। जानकारी मिली थी इन आतंकियों को जम्मू कश्मीर में कुछ दिनों की ट्रेनिंग दी गई थी। इस पर NIA ने 26 नवंबर को जम्मू कश्मीर के शोपियां और बडगाम में छापेमारी शुरू की थी। NIA ने यहां 5 संदिग्धों को चिन्हित किया है। इनके घर से भारी मात्रा में आतंकी संगठन से जुड़े साहित्य, विस्फोटक सामग्री और अन्य सामान बरामद हुए हैं। माना जा रहा है कि यह संदिग्ध उमर हलमण्डी से सीधे संपर्क में थे।

अनंतनाग से पकड़े गए 3 आतंकियों से जेल में चल रही पूछताछ
यूपी में आतंकियों के पकड़े जाने के तत्काल बाद NIA ने कश्मीर के अनंतनाग से 3 आतंकियों को गिरफ्तार किया था। यह मिशन वॉइस ऑफ हिन्द के जरिए युवाओं को कट्टरपंथी बनाने का अभियान चला रहे थे। इसके लिए इन्हें ISIS फंडिंग कर रहा था। तीनों ISIS की ओर से जारी पत्रिका वॉइस ऑफ हिन्द का ऑनलाइन प्रचार प्रसार भी कर रहे थे।

NIA अधिकारियों ने बताया कि पकड़े गए अनंतनाग से पकड़ा गया आतंकी उमर निसार भट मगरे मोहल्ला, अनंतनाग से पकड़ा गया आतंकी तनवीर अहमद भट गोरी मोहल्ला और अनंतनाग से पकड़ा गया रमीज अहमद लोन चक मोहल्ला अचलाबल अनंतनाग के रहने वाले थे। इनके घर से ISIS के साहित्य, टीशर्ट और डिजिटल उपकरण बरामद हुए थे। तीनों देश में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए फिदायीन तैयार कर रहे थे। इस सर्च ऑपरेशन के साथ NIA इनसे दोबारा जेल में पूछताछ कर रही है।

खबरें और भी हैं...