पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

UP में दिवाली की रात आग का कहर:बरेली में महिला जिंदा जली... लखनऊ में कई जगह आग लगी, झांसी में पटाखा बाजार में विस्फोट

लखनऊ8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ में भी पटाखों की वजह से रात को आग लग गई। जिसे बुझाने में दमकल कर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

यूपी में दिवाली की रात आग ने कहर बरपाया। बरेली में मकान में फंसी महिला की जलकर मौत हो गई। झांसी के पॉश इलाके में पटाखा बाजार में भीषण आग लग गई। 14 दुकानों में लगी आग के विस्फोट से आसपास के लोग सहम गए। लखनऊ में भी कई दुकानों और मकानों में आग लगी। रातभर फायर ब्रिगेड की गाड़ियों दौड़ती रहीं। वहीं वाराणसी में भी दो स्थानों पर आगजनी हुई।

बरेली में छत पर फंसी महिला की जलकर मौत

बरेली में देर रात लगी आग की घटना में सुबह पांच बजे तक रेस्कयू अभियान चला।
बरेली में देर रात लगी आग की घटना में सुबह पांच बजे तक रेस्कयू अभियान चला।

बरेली में दीपावली की देर रात एक दुकान में आग लगने से महिला की जलकर मौत हो गई। कोतवाली क्षेत्र के गली नवाबान में पंकज कुमार की पंकज ट्रेडर्स के नाम से कपड़े और टेंट का व्यापार है। दीपक परिवार के साथ दुकान के ऊपर ही रहते हैं। पटाखों के शोरगुल और धुएं के बीच आग के बारे में काफी देर तक किसी को पता नहीं चल सका। आग की सूचना पर फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची और घर में फंसे लोगों को बाहर निकाला। लेकिन, एक महिला घर में फंसी रही।

देर रात लगी आग को लेकर सुबह पांच बजे तक रेस्क्यू अभियान चलाया गया। पांच बजे पुलिस और फायर ब्रिगेड टीम ने आग पर काबू किया। इसके बाद दीपक की पत्नी अलका अरोड़ा की तलाश शुरू की तो सुबह उसकी लाश मिली। वहीं रेस्क्यू के दौरान दो भरे सिलेंडर फटने से तीन दमकल कर्मी घायल हो गए। जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

लखनऊ में रातभर दौड़ती रही फायर ब्रिगेड

दमकल पहुंचने से आग में कोई जनहानि नही हुई।
दमकल पहुंचने से आग में कोई जनहानि नही हुई।

राजधानी लखनऊ में दीपावली की धूमधाम के बीच गुरुवार रात आग ने भी खूब कहर ढाया। अलग-अलग इलाकों में आग लगती रही और पहले से अलर्ट न रहने की वजह से फायर स्टेशनों से दमकल की गाड़ियां दौड़ लगाती रही। दमकल पहुंचने से आग में कोई जनहानि तो नही हुई, लेकिन लाखों रुपये का नुकसान हुआ।

आग का सिलसिला रात करीब 8 बजे इंदिरानगर से शुरू हुआ। यहां एक मकान में आग लगी जिसे थोड़ी देर में ही काबू पा लिया गया। इसके बाद चिनहट के एक अपार्टमेंट में आग लग गई। रात 10 बजे से 1 बजे के बीच ऐशबाग स्थित गोदाम, सरोजनीनगर झोपड़पट्टी, नाका में मिठाई की दुकान, ठाकुरगंज में खाली प्लाट सहित कई जगहों पर आग लगी। सरोजनीनगर में झोपड़ी में लगी आग में एक महिला झुलस गई। हालांकि, अस्पताल में उसकी हालत खतरे से बाहर है।

पटाखों पर रोक से लापरवाह हुआ फायर ब्रिगेड
इस बार बड़े और अति ज्वलनशील पटाखों पर रोक की वजह से फायर बिग्रेड भी लापरवाह हो गया। हर साल सुरक्षा की दृष्टि से शहर के हर इलाके में दमकल खड़ी की जाती थी। लेकिन, इस बार आधे जगह दमकल पहुंची ही नही। इसकी वजह से आग लगने पर कई किलोमीटर दूर फायर स्टेशन से गाड़ियों को पहुंचने में समय लग गया। मुख्य अग्निशमन अधिकारी विजय सिंह का कहना है कि समय से आग पर काबू पाया गया जिसकी वजह से कहीं जनहानि नही हुई।

झांसी के पॉश इलाके में पटाखा की 14 दुकानें जलकर राख

एक दुकान में आग लगी और देखते देखते तीन दुकानों में आग लग गई।
एक दुकान में आग लगी और देखते देखते तीन दुकानों में आग लग गई।

झांसी जिले के कस्बे गुरसराय में पॉश इलाके में सजे पटाखा बाजार में दीपावली की रात भीषण आग लग गई। छोटी सी चिंगारी से शुरू हुई आग एक के बाद एक 14 दुकानों में फैल गई और विकराल रूप ले लिया। इससे बाजार में सजी करीब 14 दुकानें जलकर राख हो गई।

लाखों रुपए कैश, पटाखे और दो बाइक जल गई। आग में लापरवाही भी सामने आई। रोक के बावजूद पॉश इलाके में पटाखा बाजार सजाया गया। आग को रोकने के लिए जिस फायर ब्रिगेड का इंतजाम किया गया, वह खराब था। उससे पानी निकलना बंद हो गया। इसको लेकर दुकानदारों में भारी रोष दिखा। जब गरौठा विधायक जवाहर राजपूत मौके पर पहुंचे तो दुकानदारों ने दमकल के काम नहीं करने पर रोष जताया। देर रात तक आग पर काबू पा लिया गया।

वाराणसी में फ्लैट और मेडिकल स्टोर में लगी आग

वाराणसी के झूलेलाल नगर स्थित फ्लैट में भीषण आग लगने के रेस्क्यू करते सुरक्षाकर्मी।
वाराणसी के झूलेलाल नगर स्थित फ्लैट में भीषण आग लगने के रेस्क्यू करते सुरक्षाकर्मी।

वाराणसी में दिवाली की रात दो जगहों पर आग लगी। एक बेकरी मालिक के फ्लैट में लगी आग में सारा सामान जलकर राख हो गया। घटना में उनके पालतू डॉग की झुलसकर मौत हो गई। वहीं, एक मेडिकल स्टोर में लाखों का माल जल गया।

सिगरा थाना क्षेत्र के झूलेलाल नगर स्थित एक अपार्टमेंट में चौथे तल के फ्लैट में दिलीप लालवानी परिवार के साथ रहते हैं। इनकी मालवीय मार्केट में बेकरी की शॉप है। शाम 7:15 बजे अपने पालतू डॉग को फ्लैट में छोड़कर वह अपने परिजनों के साथ पूजापाठ के लिए निकले थे। करीब 8 बजे के लगभग दिलीप परिवार के साथ लौटे। उनके फ्लैट में आग लगी थी। दमकल की 5 गाड़ियों ने तकरीबन डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। उधर, कैंट रेलवे स्टेशन के सामने स्थित त्रिवेणी मेडिकल में देर शाम आग गई। कैंट रोडवेज चौकी प्रभारी ने बताया कि दुकानदार दीया जलाकर दुकान को बंद कर चले गए थे। उसी दीये से आग लगी थी।

चंदौली में दुकान में लगी भीषण आग

चंदौली में दुकान में लगी भीषण आग।
चंदौली में दुकान में लगी भीषण आग।

दिवाली की रात चंदौली के सदर कोतवाली क्षेत्र के मुंसफ कटरा स्थित एक दुकान में आग लग गई। सैयदराजा थाना क्षेत्र के सिधना गांव निवासी अशोक मौर्या ने बताया कि मुंसफ कटरा स्थित ज्ञानू सिंह के मकान में किराए पर साइबर कैफे चलाते हैं। दिवाली पर उन्होंने दुकान की साफ-सफाई की। शाम को हवन-पूजन के बाद ताला बंद कर अपने घर चले गए। आशंका जताई जा रही है कि हवन-पूजन में इस्तेमाल लकड़ियों में बची चिंगारी से दुकान के अंदर आग लग गई, जिससे उसमें मौजूद फर्नीचर जलने लगे।

फतेहपुर में पटाखे की चिंगारी से गोदाम में लगी भीषण आग

फतेहपुर में गोदाम में लगी आग।
फतेहपुर में गोदाम में लगी आग।

फतेहपुर जिले के सदर कोतवाली क्षेत्र के मुराइन टोला मोहल्ले में पटाखे की चिंगारी से एक फल गोदाम में आग लग गई। आग से गोदाम में खड़ी एक लग्जरी कार सहित लाखों का सामना जलकर राख हो गया। दीप नारायण दुबे के प्लाट में बने गोदाम में नसीम अहमद अपना फल का कारोबार करते हैं। फल के अलावा लकड़ी का ठेला और मकान मालिक की लग्जरी कार खड़ी होती है। गोदाम खुला है, उसमें छत नहीं पड़ी है। दिवाली पर रात में बच्चे पटाखा जला रहे थे। इस दौरान एक रॉकेट जलकर गोदाम में गिर गया, जिससे आग लग गई।