पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

यूपी में 31 खूनी, बलात्कारियों को फांसी:गृह विभाग ने जारी किया आंकड़ा, गंभीर अपराध के 995 आरोपियों को उम्रकैद की सजा मिली

लखनऊ5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यूपी गृह विभाग ने सोमवार को अभियोजन की पैरवी से कोर्ट में हुई सजाओं का आंकड़ा जारी किया। इसके मुताबिक एक साल में 31 आरोपियों को फांसी हुई। इसमे हत्या और रेप और गैंगरेप के आरोपी शामिल हैं। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी का कहना है कि अभियोजन की कड़ी पैरवी से कम समय ने मुकदमों के फैसले हुए और आरोपियों को कड़ी सजा दिलाई जा सकी।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के मुताबिक महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान और न्याय के लिए तीन चरणों में चलाये गयेे प्रदेश व्यापी मिशन शक्ति अभियान के तहत 17 अक्टूबर 2020 से अक्टूबर 2021 तक अपराधियों को सजा दिलाये जाने के सार्थक नतीजे सामने आये है। उन्होंने बताया है कि इस दौरान अभियोजन विभाग ने प्रभावी पैरवी से 31 अपराधियों को मृत्यु दण्ड की सजा दिलाई है।

995 को उम्रकैद, 1315 को दस-दस साल का कारावास

अवनीश अवस्थी ने बताया कि प्रदेश भर में चल रहें मुकदमों में अभियोजन विभाग द्वारा की गयी पैरवी से 995 आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा हुई है। बताया कि मिशन शक्ति अभियान के तहत न्यायालयों में चल रहे मुकदमों में 1315 अपराधियों को 10 वर्ष एवं 10 वर्ष से अधिक की सजा मिली है। इसी तरह 2553 अभियुक्तों को 10 वर्ष से कम की सजाएं हुई हैं। 503 अभियुक्तों को जुर्माने से दण्डित कराया गया साथ ही 18681 अभियुक्तों की जमानतें खारिज करायी गयी है।

खबरें और भी हैं...