पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लखनऊ पहुंची शतरंज ओलंपियाड मशाल:CM योगी ने 5 बार के ग्रैंड मास्टर विश्वनाथन के साथ खेला दांव, बोले- ये विरासत का सम्मान

लखनऊ5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

44वें शतरंज ओलंपियाड की मशाल रविवार की शाम लखनऊ पहुंची। विधानसभा के सामने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मशाल की अगुआनी की। इस दौरान योगी ने 5 बार के ग्रैंड मास्टर शतरंज के खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद के साथ शतरंज भी खेला।

योगी ने कहा, ''शतरंज विधा का जन्म भारत में हुआ है। आपने देखा होगा कि पूरी महाभारत इसके इर्द-गिर्द घूमती है, आज उस परंपरा के साथ जुड़ने का एक बार फिर अवसर मिल रहा है। यह न केवल भारत का सम्मान है, बल्कि देश की शतरंज की गौरवशाली विरासत का भी सम्मान है।'' बता दें कि 28 जुलाई से 10 अगस्त तक 44वां शतरंज ओलंपियाड तमिलनाडु के महाबलीपुरम में होगा।

यह फोटो लखनऊ में विधानसभा के सामने की है। योगी ने अपने हाथों में मशाल थाम रखी है।
यह फोटो लखनऊ में विधानसभा के सामने की है। योगी ने अपने हाथों में मशाल थाम रखी है।

''मशाल रिले आयोजित करने वाला भारत पहला देश''
सीएम योगी ने कहा, ''शतरंज ओलंपियाड मशाल रिले आयोजित करने वाला भारत पहला देश होगा। यह भी तय हुआ है कि प्रत्येक शतरंज ओलंपियाड के लिए मशाल रिले भारत से ही शुरू होगी। यह भारत के लिए गर्व की बात है। शतरंज एक बौद्धिक खेल है। यह खेल हमें अनुशासन भी सिखाता है और धैर्य के साथ निर्णय की प्रतीक्षा करने के लिए भी प्रेरित करता है।''

मशाल जुलूस में सीएम योगी के पहुंचने पर राष्ट्रगान का आयोजन किया गया।
मशाल जुलूस में सीएम योगी के पहुंचने पर राष्ट्रगान का आयोजन किया गया।

मशाल 40 दिन में 75 शहरों से गुजरकर चेन्नई के समीप महाबलीपुरम पहुंचेगी। हर शहर में उस राज्य के शतरंज ग्रैंड मास्टर को मशाल सौंपी जाएगी। यूपी में आगरा, कानपुर, लखनऊ शहर शामिल हैं। इसके अलावा लेह, श्रीनगर, जयपुर, सूरत, मुंबई, भोपाल, पटना, कोलकाता, गंगटोक, हैदराबाद, बेंगलुरू, त्रिशूर, पोर्ट ब्लेयर, कन्याकुमारी उन 75 शहरों में शामिल हैं, जहां से मशाल गुजरेगी। शतरंज ओलंपियाड के लगभग 100 साल के इतिहास में पहली बार भारत इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा है।

यह फोटो विधानसभा के सामने की है, कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी हुआ।
यह फोटो विधानसभा के सामने की है, कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी हुआ।

188 देशों के 2 हजार खिलाड़ी लेंगे हिस्सा
इससे पहले 43 चेस ओलंपियाड हो चुके हैं, लेकिन अब तक टॉर्च रिले का आयोजन नहीं किया गया था। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के अनुसार इस बार चेस ओलंपियाड में 188 देशों के दो हजार से ज्यादा खिलाड़ी भाग लेंगे। फाइड (अंतरराष्ट्रीय चेस फेडेरेशन) ने पहली बार टॉर्च रिले का आयोजन करने का फैसला किया था।