पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ललितपुर में 127 सिपाहियों के तबादले:कानून व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए लिया फैसला, बोले- अभी और होगा स्थानांतरण

ललितपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ललितपुर जिले के थाना पानी में थानाध्यक्ष द्वारा 13 साल की नाबालिग के साथ किये गये दुष्कर्म के बाद ललितपुर पुलिस की बदनामी पूरे प्रदेश में हुई है, जिसके बाद थाना पाली का पूरा स्टाफ 29 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया था, इसके अलावा पुलिस की छवि धूमिल करने वाले दो पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया है। कानून व्यवस्था चुस्त दुरुस्त रखने के उद्देश्य से पुलिस अधीक्षक द्वारा लंबे समय से थानों, चौकियों व कार्यालयों में तैनात महिला व पुरूष सिपाही बड़ी संख्या में एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानांतरित किये गए हैं।

पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक ने गुरुवार को जिले में थानों, चौकियों, एसपी कार्यालय में स्थित विभिन्न पटलों, सभी सीओ कार्यालयों सहित अन्य जगहों पर लंबे समय से तैनात 127 महिला व पुरूष कांस्टेबलों के स्थानांतरण किये गये है। जिले में पहली बार एक साथ इतनी संख्या में स्थानांतरण से पुलिसकर्मियों में हडक़म्प मच गया है। कई पुलिसकर्मी ऐसे स्थानांतरित किये गये है जो एक ही थाने में लंबे समय से तैनात थे।

स्थानांतरण की सूची दोपहर में जारी होते ही उन पुलिसकर्मियों के चेहरे से रौनक उड़ गई है जो अपनी मन माफिक जगह पर तैनात रहकर मनमर्जी से ड्यूटी कर रहे थे। इसके अलावा कई पुलिसकर्मी ऐसे भी रहे जो किसी स्थान पर तीन-चार महीने पहले ही तैनात हुए थे। पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक ने बताया कि कानून व्यवस्था को चुस्त दुरूस्त रखने के उद्देश्य से स्थानांतरण किये गये है। उन्होंने कहा कि और भी पुलिसकर्मियों के स्थानांतरण किये जायेगें।

खबरें और भी हैं...