पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57858.150.64 %
  • NIFTY17277.950.75 %
  • GOLD(MCX 10 GM)486870.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)63687-1.21 %

बलात्कारी राजनीति:ललितपुर में 28 लोगों ने किशोरी से किया था रेप, आरोपी सपा-बसपा जिलाध्यक्ष गिरफ्तार

ललितपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश किया है।

ललितपुर में किशोरी से रेप के मामले में शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई की गई। पुलिस ने दबिश देकर आरोपी सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव, बसपा जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार को गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही लघु सिंचाई के बर्खास्त जेई महेंद्र दुबे को भी गिरफ्तार किया है।

तीनों के मेडिकल कराने के बाद पुलिस ने कोर्ट में पेश किया है। बता दें, रेप के मामले में 28 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया था। इनमें से सपा जिलाध्यक्ष के भाई समेत 4 लोगों को पहले ही जेल भेजा जा चुका है।

एसपी निखिल पाठक ने बताया कि नाबालिग से रेप आरोपी तीन लोगों की आज गिरफ्तारी की गई है। चार को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। आरोपियों को पकड़ने के लिए एसआईटी समेत पुलिस की 11 टीमें बनाई गई हैं। अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

जिला अस्पताल में सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव का मेडिकल कराया गया।
जिला अस्पताल में सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव का मेडिकल कराया गया।

एसओजी टीम प्रभारी अंजनी सिंह ने बताया कि तीनों आरोपी मिर्जापुर के एक होटल छिपे हुए थे। बुधवार को छात्रा के पिता, उसके दो चाचा और सपा जिलाध्यक्ष के भाई अरविंद यादव को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इसके बाद सपा-बसपा जिलाध्यक्ष समेत अन्य आरोपी फरार हो गए थे।

जिला अस्पताल में मेडिकल के दौरान आरोपी बसपा जिलाध्यक्ष और आरोपी बर्खास्त जेई।
जिला अस्पताल में मेडिकल के दौरान आरोपी बसपा जिलाध्यक्ष और आरोपी बर्खास्त जेई।

क्या है मामला?

मामला कोतवाली सदर क्षेत्र का है। किशोरी का पिता छह साल से उससे दुष्कर्म कर रहा था। उसे रुपयों के लिए होटलों में भी भेजता था। उसे डरा-धमकाकर पिता यह सब काम करा रहा था। उसकी खामोशी का फायदा उठाकर रिश्तेदारों ने भी उसके साथ रेप किया।

किशोरी ने 11 अक्टूबर को 28 लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया था। इनमें सपा के जिलाध्यक्ष तिलक यादव, उनके चार भाई, नगर अध्यक्ष राजेश जोझिया, पार्षद महेंद्र सिंघई, बसपा जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार और उपाध्यक्ष आदि के भी नाम हैं। मामले में किशोरी के पिता की गिरफ्तारी के बाद सभी आरोपी फरार हो गए थे।

मेडिकल के दौरान जिला अस्पताल के बाहर पुलिस फोर्स तैनात रही।
मेडिकल के दौरान जिला अस्पताल के बाहर पुलिस फोर्स तैनात रही।

सपा जिलाध्यक्ष ने आत्महत्या की दी थी धमकी

सपा जिलाध्यक्ष ने मुकदमा दर्ज होने के बाद आत्महत्या करने की धमकी दी थी। कहा था कि उन्हें झूठा फंसाया जा रहा है। मामले की जांच करानी चाहिए। इसके बाद सपा व बसपा कार्यकर्ताओं ने बुधवार को प्रदर्शन किया। इस दौरान धारा 144 और कोविड नियमों का उल्लंघन किया। जिस पर झांसी के सपा जिलाध्यक्ष महेश कश्यप समेत 251 कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दर्ज किया है।

धारा 144 के उल्लंघन और ज्ञापन में रेप पीड़िता का नाम उजागर करने पर बसपा के 204 कार्यकर्ताओं पर मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें पूर्व विधानसभा प्रत्याशी संतोष कुशवाहा, विधानसभा अध्यक्ष संतोष अहिरवार, अध्यक्ष संजय कुमार और रहीश सिंह शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...