पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निघासन में कॉलेज गई छात्रा का अपहरण:पिता ने दुष्कर्म के बाद लगाया हत्या का आरोप, पुलिस ने तीन युवकों को हिरासत में लिया

निंघासन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

निघासन में बस में सवार होकर कॉलेज पढ़ने गई एक 20 वर्षीय छात्रा को निघासन चौराहे से गांव के ही कुछ युवकों ने अपने साथियों के साथ मिलकर अगवा कर लिया। छात्रा के पिता ने अनहोनी की आशंका जताते हुए थाना निघासन पुलिस को तहरीर दी है। जिसे लेने से पुलिस ने इंकार कर दिया। बाद में दूसरी तहरीर लिखवाई। जिसके आधार पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। निघासन पुलिस ने लापता युवती की तलाश के लिए दो टीमें लगाई है।

सिंगाही थाना इलाके के गांव की रहने वाली 20 वर्षीय युवती निघासन के एक डिग्री कॉलेज में बीए की छात्रा है। जो रोज की तरह शुक्रवार की सुबह आठ बजे बस से कॉलेज के लिए निकली थी। लेकिन, वह देर शाम तक घर वापस नहीं पहुंची तो परिवार वालों ने उसकी तलाश शुरू की और रिश्तेदारी सहित आस-पड़ोस में भी पता किया। लेकिन, युवती का कोई सुराग नहीं चल सका।

पिता ने दुष्कर्म के बाद हत्या की जताई आशंका

युवती के पिता परिवार के अन्य लोगों के साथ निघासन कोतवाली पहुंचकर गांव के ही अनिल राणा सहित दो अन्य साथियों की मदद से दिनदहाड़े पुत्री को अगवा करने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी। दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका भी जताई। लेकिन, निघासन पुलिस ने तहरीर को लेने से इंकार कर दिया। जिसके बाद दूसरी तहरीर लिखवाई गई। जिस पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 366 के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली। पुलिस ने छात्रा की सकुशल बरामदगी के लिए दो टीमें लगाई हैं। उधर मामला दो समुदायों के बीच होने के कारण गांव में तनाव व्याप्त है।

पुलिस पर मामला झुठलाने का आरोप

छात्रा को अगवा किए जाने की घटना से पुलिस में हड़कंप मच गया। उसने पीड़ित पिता से तहरीर भी बदलवाई। लेकिन, दोनों ही तहरीरों में छात्रा के पिता ने अगवा करने की बात लिख दी। मामला, जैसे ही सोशल मीडिया में सुर्खियों में आया वैसे ही पुलिस की मीडिया सेल ने मामले को झुठलाने की कोशिश की और खबर को भ्रामक बता दिया। इसी बीच पीड़ित पिता की दोनों तहरीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। जिसमें अगवा करने की बात साफ-साफ लिखी हुई थी। इसके बाद पुलिस बैकफुट पर आ गई और अंत में पुलिस को अपहरण की धारा में रिपोर्ट दर्ज करना पड़ा।

आरोपी पहले भी कर चुका है छेड़छाड़

पीड़ित पिता ने बताया कि आरोपी उसके पड़ोस का ही रहने वाला है। वह पहले भी पुत्री के साथ छेड़छाड़ कर चुका है। पुत्री के बताने पर परिवार वालों ने आरोपी और उसके परिवार वालों से शिकायत कर नाराजगी जताई थी। इस पर परिवार वालों ने गाली गलौज कर देख लेने की धमकी दी थी। इसके बाद भी आरोपी नहीं माना और पुत्री को आए दिन परेशान करता था। समाज में बदनामी के डर से उसने मामले की शिकायत पुलिस से नहीं की थीं। निघासन पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लेकर थाने ले गई है।

कोतवाल ने बरामदगी के लिए लगाईं दो टीमें

निघासन कोतवाल चंद्रभान यादव ने बताया की मामले में प्राथमिकी दर्ज कर युवती की सकुशल बरामदगी के लिए टीमें लगाई गई हैं। तहरीर बदलवाने का आरोप असत्य और निराधार है। उधर सिंगाही एसओ दिनेश कुमार सिंह ने मामले में बताया कि लापता युवती के साथ उसकी सहेली भी थी। जिसके अनुसार कुछ सामान खरीदने की बात कहते हुए वह निघासन में उतर गई थी, और अपनी सहेली को कॉलेज भेज दिया। अपहरण करने की बात झूठी है। दोनों एक-दूसरे को पहले से जानते थे।

खबरें और भी हैं...