पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लखीमपुर-खीरी में गूगल मैप से लगेगी उपस्थिति:एनआरएचएम कर्मचारियों को लगाई एडी हेल्थ ने फटकार, तीन माह के कार्यक्रम की मांगी रिपोर्ट

लखीमपुर-खीरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अपर निदेशक लखनऊ मंडल डॉ. जीएस बाजपेई ने एनएचएम के अंतर्गत तैनात सभी जिला स्तरीय अधिकारियों और कर्मचारियों की समीक्षा बैठक की गई। इस दौरान उन्होंने एनएचएम के अंतर्गत किए जा रहे स्वास्थ्य कार्यक्रमों की समीक्षा की।

अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण लखनऊ मंडल लखनऊ डॉ. जीएस बाजपेई द्वारा सर्वप्रथम परिचय करते हुए सभी एनएचएम के अंतर्गत तैनात संविदा कर्मचारी अधिकारियों के कार्य दायित्व के बारे में जानकारी की। वहीं उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों के दायित्वों के बारे में डीपीएम निगरानी करते हुए सीएमओ डॉ. शैलेंद्र भटनागर को रिपोर्ट प्रस्तुत करने के आदेश दिए।

3 माह के कार्यों का मांगा ब्यौरा

इस दौरान उन्होंने कहा कि अप्रेजल के बिना वेतन आहरित नहीं किया जाएगा। सभी जिला स्तरीय अधिकारी और कर्मचारी अपने द्वारा किए गए बीते 3 माह के कार्यों का ब्यावरा देते हुए इस बार अपने नोडल से अपना अप्रेजल फॉर्म अप्रूव करवाएंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि डीपीएम यूनिट की चार सदस्यीय टीम माह में कम से कम चार विजिट सीएचसी, पीएचसी और उप केंद्रों की करेंगी। जिसके बाद अपनी भ्रमण आख्या सीएमओ को प्रस्तुत करेंगे। उन्होंने कहा कि भ्रमण को लेकर बनाए जाने वाले प्लान को पहले अप्रूव कर आना होगा।

इसके बाद उसी निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार भ्रमण करना आवश्यक है। सभी अधिकारी और कर्मचारी अपने बीते तीन माह का भ्रमण कार्यक्रम और उसकी आख्या सीएमओ को प्रस्तुत करेंगे। उन्होंने डीपीएम को निर्देशित किया कि जो ब्लॉक पहले से रिपोर्टिंग व अन्य स्वास्थ्य योजनाओं में पिछड़े हुए हैं उनको चिन्हित कर उनकी विजिट का अपने उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी दें।

15 जून तक नियुक्ति के आदेश

भ्रमण के लिए दी जा रही गाड़ियां दिए व अन्य मद अब बिना सत्यापन के नहीं दिए जाएंगे। इसी के साथ उन्होंने राज्य स्तर पर हो रही रिपोर्टिंग को लेकर नाराजगी जताते हुए कहा कि इसके लिए डाटा वेडिटेशन टीम को बनाया जाए और इस की मासिक बैठक की जाए। देश और जिले के एवरेज के अनुसार कार्य करना सभी की प्राथमिकता होनी चाहिए। अर्बन क्षेत्र में चल रहे उप केंद्रों को लेकर कोऑर्डिनेटर राहुल शाक्य की फटकार लगाते हुए उन्होंने कहा कि जो स्टाफ कम है उसके नियुक्त 15 जून तक हो जानी चाहिए। समीक्षा बैठक के दौरान मंडल स्तर से अनूप सहित जिले से एसीएमओ डॉ. अश्विनी कुमार डॉ. अनिल कुमार गुप्ता, डॉ. बीसी पंत, डॉ. कुलदीप आदिम सहित डिप्टी सीएमओ डॉ. धनीराम भार्गव, डॉ. लालजी पासी सहित जिला स्तरीय अधिकारियों कर्मचारी उपस्थित रहे।

बैठक करते अधिकारी।
बैठक करते अधिकारी।

बिना अप्रेजल के नहीं निकलेगी सैलरी

अपर निदेशक लखनऊ मंडल लखनऊ डॉ. जीएस बाजपेई ने संविदा कर्मचारियों अधिकारियों की सैलरी को लेकर साफ कर दिया कि जब तक की सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के अप्रेजल फॉर्म डीपीएम ऑफिस में जमा नहीं होते तब तक किसी भी अधिकारी कर्मचारी की सैलरी नहीं निकाली जाए, अन्यथा की स्थिति में कार्रवाई के लिए तैयार रहें। सभी वीएचएनडी सत्र पर विजिट करने अनिवार्य है।

डॉक्टर व कर्मचारियों के समय पर अपने कार्यस्थल पर ना पहुंचने की शिकायत पर सख्ती दिखाते हुए एडी लखनऊ मंडल ने सीएमओ डॉ. शैलेंद्र भटनागर को निर्देशित किया कि अब गूगल मीट के माध्यम से सभी की अटेंडेंस लगाई जाए जो लोग अनुपस्थित हैं उनका वेतन रोक दिया जाए।

खबरें और भी हैं...