पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोला गोकर्ण नाथ में जलभराव को लेकर ग्रामीणों का प्रदर्शन:आश्वासन के बाद भी अधिकारियों के न आने पर गुस्साए, नाला जाम होने से समस्या

गोला गोकर्ण नाथ, लखीमपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोला गोकर्णनाथ के ब्लॉक बांकेगंज मुख्यालय के गेट पर प्रदर्शन करते लोग।

गोला गोकर्णनाथ के ब्लॉक बांकेगंज में जलभराव से ग्रामीणों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जलभराव की समस्या को लेकर खण्ड विकास अधिकारी को सोमवार को ज्ञापन भी दिया गया था, लेकिन मंगलवार सुबह जब अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे तो ग्रामीणों ने ब्लॉक मुख्यालय के गेट पर प्रदर्शन किया। पुलिस के आने के बाद गेट खुलवाया गया। समस्या के समाधान का आश्वासन दिया गया।

गांव कोठीपुर में 2 दिन तक हुई बारिश के बाद जलभराव हो गया है। ग्रामीण गन्दे पानी से होकर निकलने को मजबूर हैं। गांव में जलभराव की समस्या बनी है। यह गांव ब्लॉक मुख्यालय से 200 मीटर दूर है। सोमवार को ज्ञापन देने के बाद बीडीओ शिखर श्रीवास्तव ने गांव में टीम भेजने की बात कही थी, लेकिन मंगलवार सुबह तक कोई अधिकारी गाँव नहीं आया। जिसके बाद ग्रामीणों ने ब्लॉक मुख्यालय पर प्रदर्शन किया।

बांकेगंज के कोठीपुर गांव में जलभराव की समस्या दूर न होने पर ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया।
बांकेगंज के कोठीपुर गांव में जलभराव की समस्या दूर न होने पर ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया।

बच्चों को गोद में उठाकर निकलना पड़ रहा

ग्रामीणों ने बताया कि लोगों ने कई जगह पर नालों पर कब्जा कर रखा है। पानी का निकास नहीं होने पर सारा पानी कोठीपुर गांव में एकत्रित हो रहा है। छोटे-छोटे बच्चे स्कूल पढ़ने जाते हैं। उन्हें गोद में उठाकर ले जाना पड़ता है। महिलायें और बुजुर्ग घरों में कैद रहने को मजबूर हैं।

इन स्थानों पर नाला ब्लॉक किया गया

ग्रामीण ने बताया कि जो ड्रेन मैकूपुर से आयी है वह श्रवण के घर से होते हुए कोठीपुर के किनारे प्रवेश करती है, जिसकी कई वर्षों से सफाई नहीं हुई है। वहीं आगे नाला राज टेन्ट हाउस के निकट जाम है। यहीं से पूरा पानी रोड के किनारे से नाले से होते हुए कोठीपुर वाले तालाब में गिरता था। अतिक्रमण की वजह से हर जगह नाला जाम है।

थाना अध्यक्ष के साथ ग्राम प्रधानपति ने किया निरीक्षण

वहीं मौके पर पहुंचे ग्राम प्रधान पति विरेंद्र गौतम और थाना अध्यक्ष रामलखन पटेल ने मौके का निरीक्षण किया। जहां-जहां पर लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है, उस जगह को चिन्हित किया। नाले की सफाई के लिए जेसीबी की व्यवस्था का प्रबन्ध किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...