पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धौरहरा में सरयू की तेज धारा में बह गया युवक:पिछले महीने ही हुई थी शादी, नदी में नाव को किनारे लगाने गए थे पिता और पुत्र

धौरहराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लखीमपुरखीरी के धौरहरा क्षेत्र के रामनगर बगहा गांव किनारे निकली सरयू (घाघरा) नदी में नाव किनारे लगाने गया एक युवक नदी की तेज धारा में बह गया। अचानक नदी में पानी बढ़ने से हादसा हो गया। गोताखोर और एनडीआरएफ की टीम तलाश में जुटी है।

धौरहरा क्षेत्र के ग्राम पंचायत रामनगर बगहा मजरा बगहा निवासी मौजी लाल मौर्य व उनका 22 वर्षीय पुत्र अजय कुमार मौर्य सरयू नदी में पड़ी नाव को खेतों में जाने के लिए किनारे लगाने के लिए गए हुए थे। अचानक नदी में पानी बढ़ने से आई तेज धारा में अजय बह गया। उसे बहता देख उसके पिता समेत वहां मौजूद भरोसे, बुद्धिलाल, हीरालाल व ज्ञान प्रकाश ने उसको बचाने का प्रयास किया पर कामयाब नहीं हो सके।

इसकी सूचना उन्होंने गांव में दी तो उसके परिवार समेत गांव में अफ़रातफ़री मच गई। सूचना पाकर पहुचीं धौरहरा पुलिस व तहसील प्रशासन ने स्थानीय गोताखोरों की मदद से डूबे अजय की खोजबीन में जुट गए है। वहीं मौके पर पहुंचे उपजिलाधिकारी धीरेन्द्र सिंह की अगुवाई में एनडीआरफ की टीम को भी सूचना देकर बुलाया गया है।

पुलिस क्षेत्राधिकारी टीएन दुबे ने बताया कि नदी में अचानक पानी बढ़ने से आए सैलाब में अजय बह गया, उसका पिता बच गया। कोतवाल डीपी शुक्ल की अगुवाई में स्थानीय गोताखोर तलाश में लगे हुए हैं। उपजिलाधिकारी के निर्देशन में एनडीआरफ को सूचना देकर बुलाया गया है।

धौरहरा क्षेत्र के रामनगर बगहा गांव घटना के बाद जुटे लोग।
धौरहरा क्षेत्र के रामनगर बगहा गांव घटना के बाद जुटे लोग।

पिछले माह ही हुई थी अजय की शादी
युवक की 22 अप्रैल को ही शादी हुई थी। वह अपने माँ-बाप का इकलौता बेटा था। उसके डूबने की सूचना पाकर जहां उसकी ससुराल में मायूसी छाई हुई है, वहीं पूरे गांव में गम का माहौल है।

धौरहरा क्षेत्र के रामनगर बगहा गांव घटना के बाद जुटे लोग।
धौरहरा क्षेत्र के रामनगर बगहा गांव घटना के बाद जुटे लोग।

खेतों में जाने के लिए नहीं है कोई रास्ता
रामनगर बगहा गांव के नदी पार खेतों में जाने के लिए अन्य कोई रास्ता न होने की वजह से गांव के लगभग सभी लोग अपने खेतों में नदी पार करके ही पहुंचते हैं। लेकिन आज जैसी घटना पहले कभी नहीं हुई। गांव निवासी बुद्धिलाल ने बताया कि नदी में अचानक पानी बढ़ने का अंदाजा किसी को नहीं था] न ही जिम्मेदारों ने इसके बारे में लोगों को कोई सूचना दी थी। इसकी वजह से अजय बह गया। गांव के हीरालाल व ज्ञान प्रकाश ने बताया कि गांव के लगभग सभी लोगों की जमीनें नदी के पार हैं लेकिन मई-जून में इस तरह अचानक नदी में पानी कभी नहीं बढ़ा। जिन लोगों ने नदी में लोगों को सूचना दिए बगैर इतना पानी छोड़ा, उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

युवक की फाइल फोटो।
युवक की फाइल फोटो।
धौरहरा क्षेत्र के रामनगर बगहा गांव में इसी नदी में डूबा युवक।
धौरहरा क्षेत्र के रामनगर बगहा गांव में इसी नदी में डूबा युवक।
खबरें और भी हैं...