पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सड़क हादसे में रसोइयां की मौत:तेज रफ्तार कार ने मारी टक्कर, सड़क पर खड़ी महिला की मौत

धौरहरा, लखीमपुर खीरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

धौरहरा​ में​​ एनएच 730 पर पीलीभीत बस्ती हाईवे पर अपने मायके से घर वाप जा रही 45 वर्षीय महिला को जसवंत नगर के निकट लखीमपुर की तरफ से आ रही एक तेज रफ्तार कार ने टक्कर मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई।

पढ़िए पूरी खबर

थाना ईसानगर क्षेत्र के जसवंतनगर स्थित एनएच 730 हाईवे पर लखीमपुर की तरफ से आ रही तेज रफ्तार एस क्रॉस कार गाड़ी संख्या यूपी 31 एएन 1627 ने सड़क किनारे खड़ी महरिया निवासी बाबूराम राजपूत की (45) वर्षीय पत्नी कमला देवी को टक्कर मारकर दी। जिसमें कमला देवी की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बीच कार अनियंत्रित होकर खाई में जा गिरी, जिसमें सवार कार चालक भी गंभीर रूप से घायल हो गया।

मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची खमरिया पुलिस ने जहां कार चालक को अस्पताल भेजा है। वहीं महिला के शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया। मृतका के परिजनों की मानें तो वह अपनी ससुराल महरिया से जसवंतनगर मायके जा रही थी। कमला देवी की मौत से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

रसोइयां के पद पर तैनात थीं कमला देवी

ग्रामीणों की मानें तो सड़क हादसे का शिकार हुईं कमला देवी जसवंत नगर में स्थित परिषदीय विद्यालय में रसोइयां के पद पर काम कर रही थीं। कमला देवी के पति बाबूराम की करीब दस वर्ष पहले ही मौत हो गई थी जो अकेले ही रसोइयां के पद पर काम कर परिवार का पालन पोषण कर रही थीं।

जानकारी पाकर कमला देवी की मौत से विद्यालय के शिक्षकों समेत अन्य रसोइयां भी शोकाकुल हैं।

दो बेटियों का पालन पोषण करती थीं

कमला देवी के पति बाबूराम के निधन के बाद वह अकेली घर की मुखिया बचीं थीं, जिनकी केवल दो बेटियां रोशनी (24) व कविता (17) का पालन पोषण उन्हीं के कंधों पर थी। जिसमें रोशनी की शादी कर कमला देवी छोटी बेटी कविता की जिम्मेदारी संभाल रही थी। हादसे के बाद अब छोटी बेटी बेसहारा हो गई। जिनका रो-रो कर हाल बेहाल है।

खबरें और भी हैं...