पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तमकुही राज में खुद ही राशनकार्ड लौटा रहे लोग:वसूली का मैसेज वायरल हुआ तो अपात्रों ने आपूर्ति विभाग के कार्यालय में सरेंडर किया राशनकार्ड

तमकुही राजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आपूर्ति विभाग के कार्यालय में राशन कार्ड लौटाने पहुंचे लोग। - Money Bhaskar
आपूर्ति विभाग के कार्यालय में राशन कार्ड लौटाने पहुंचे लोग।

स्वेच्छा कहें या फिर मजबूरी, लेकिन इन दिनों तमकुहीराज के आपूर्ति विभाग के कार्यालय में राशनकार्ड के अपात्र धारकों की भीड़ देखने को मिल रही है। अपात्र लोगों ने अपना राशनकार्ड सरेंडर करना शुरू कर दिया है। कार्यालय से मिले आंकड़ों के अनुसार तहसील क्षेत्र में प्रतिदिन 15-20 लोग अपना राशनकार्ड सरेंडर कर रहे हैं।

गौरतलब है कि फ्री राशन वितरण शुरू होने के बाद लोगों में राशन कार्ड बनवाने और उसमें छूटे परिवार के सदस्यों का नाम जुड़वाने के लिए आपूर्ति कार्यालय पर भीड़ एकत्र होनी शुरू हो गई थी। इस दौरान अधिकारियों से लेकर लाभार्थी उलझते और प्रदर्शन करते देखे गए थे। हाल ही में राशनकार्ड की पात्रता को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल पोस्टों के बाद बहुत से लोगों ने अपना राशनकार्ड सरेंडर करना शुरू कर दिया है।

वायरल हो रहा मैसेज
सोशल मीडिया पर यह वायरल हो रहा है कि जो भी अपात्र लोग फ्री राशन का लाभ ले रहे हैं, उनसे सरकार वसूली करेगी, जिससे लोगों में खलबली मची है। लोग खुद आपूर्ति कार्यालय पहुंच अपना राशनकार्ड सरेंडर कर रहे हैं।

क्या बता रहे हैं जानकार?
आपूर्ति विभाग से जुड़े जानकार बता रहे हैं कि जिन अंत्योदय कार्ड धारकों के यहां बाइक (मोटर साइकिल) है, उनका अंत्योदय कार्ड निरस्त हो जाएगा। वैसे ही जिनके परिवार में चार पहिया वाहन, लग्जरी कार आदि है, उनका पात्र गृहस्थी का कार्ड निरस्त हो जाएगा।

वहीं आपूर्ति निरीक्षक बैद्यनाथ सिंह का कहना है कि जो लोग सक्षम हैं, वे अपनी जिम्मेदारी और देशहित में स्वेच्छा से अपना राशनकार्ड वापस कर रहे हैं। इसके लिए किसी पर दबाव नहीं बनाया गया है। उन्होंने बताया कि जो राशनकार्ड सरेंडर हो रहे हैं, उनकी जगह पर गरीब परिवारों का राशनकार्ड बनेगा, जिनके पास राशन कार्ड है ही नहीं।

खबरें और भी हैं...