पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पर्यटन के रूप में विकसित होगा भागड़ा देवी का स्थान:तमकुहीराज विधायक ने मां का दर्शन कर लिया आशीर्वाद, प्रतिदिन हजारों की संख्या में पहुंचते हैं श्रद्धालु

तमकुहीराज, कुशीनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

तहसील मुख्यालय के पीछे से बहने वाली झरही नदी के गोद में स्थित भागड़ा देवी मां के स्थान का कायाकल्प होने की उम्मीद जगी है। विधायक डॉक्टर असीम कुमार ने सोमवार को मां का दर्शन करने के बाद इस स्थान को पिकनिक स्पॉट के रूप में विकसित कराने की इच्छा जताई है। विधायक के इस पहल के लिए पर लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की है।

क्षेत्र भ्रमण के दौरान तमकुहीराज के विधायक डॉक्टर असीम कुमार को ग्रामीणों ने बताया कि झरही के गोद में एक प्रसिद्ध देवी भागड़ा देवी मां का स्थान है, जहां प्रतिदिन बड़ी तादात में श्रद्धालु दर्शन को आते हैं। इस पर विधायक ने मां के दर्शन की इच्छा व्यक्त की। स्थान को देखने के बाद विधायक ने इसको विकसित करने पर जोर दिया। बताया कि वे स्वयं पर्यटन विभाग से इस स्थान को धार्मिक महत्व के साथ ही पिकनिक स्पाट के रूप में विकसित करवाने के लिए प्रयास करेंगे।

फाजिलनगर और तमकुहीराज के सीमा पर स्थित है मंदिर

माता भागड़ा देवी के स्थान के बगल में एक बड़ा तालाब है, जिसमें विभिन्न प्रकार के पुष्प है। आसपास वन विभाग ने बड़े क्षेत्रफल में जंगल लगाया है। यहां पहुंचने के लिए नदी के किनारे से कच्चा चौड़ा मार्ग है, जो बरसात के दिनों में श्रद्धालुओं के लिए दिक्कत पैदा करता है। माता भागड़ा देवी का स्थान फाजिलनगर और तमकुहीराज दोनों का सीमा भी है, इसलिए तमकुहीराज के विधायक डॉ. असीम कुमार ने कहा कि वह फाजिलनगर विधायक सुरेंद्र सिंह कुशवाहा से बात करेंगे। दोनों लोग मिलकर प्रयास कर माता के इस स्थान को पर्यटन के रूप में विकसित कराने का काम करेंगे।

इस दौरान रमेश गुप्ता, ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह, विरेंद्र प्रसाद, अभिषेक आनंद पाठक, नगनारायण सिंह, संतोष चौरसिया, नत्थु पाल, मुन्ना सिंह, अनिरूद्ध सिंह आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...