पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चित्रकूट पहुंचे जल शक्ति मंत्री:डॉ. महेंद्र सिंह ने पेयजल परियोजना को लेकर की बैठक, समय से निर्माण कार्य पूरा करने के दिए निर्देश

चित्रकूट7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चित्रकूट पहुंचे जल शक्ति मंत्री। - Money Bhaskar
चित्रकूट पहुंचे जल शक्ति मंत्री।

प्रधानमंत्री के महोबा आगमन को लेकर योगी सरकार तैयारियों में लगी हुई है। इस कड़ी में मंगलवार को प्रदेश सरकार में जल शक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह चित्रकूट पहुंचे। यहां उन्होंने सर्किट हाउस में जनपद स्तरीय अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा की।

दिसंबर तक शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाए

जल शक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह ने कार्यदायी संस्थाओं से चांदी बांगर, सिलौटा मुस्तकिल, भरथौल, गुंता बांध पेयजल परियोजनाओं के अंतर्गत निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि निर्माण कार्य शीघ्र पूरा कर संबंधित ग्रामों को माह दिसंबर तक शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने संबंधित कार्यदायी संस्था के अधिकारियों को निर्देश दिए कि ग्रामों में पाइप लाइन बिछाए जाने का कार्य और ग्रामों में दिए जाने वाले पेयजल कनेक्शन, विद्युत कनेक्शन आदि का कार्य शीघ्र पूर्ण कर लिया जाए ताकि पेयजल योजनाओं के अंतर्गत आने वाले ग्रामों की पेयजल आपूर्ति कराई जा सके।

बुंदेलखंड का चतुर्दिक विकास हो रहा

जल शक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह ने कहा कि जिन ग्रामों में ट्यूबवेल लगाया जाना है, वहां शीघ्र लगाया जाए ताकि ग्रामीणों को पेयजल की समस्या न हो सके। मंत्री ने बताया कि वर्तमान केंद्र व प्रदेश सरकार के नेतृत्व में बुंदेलखंड का चतुर्दिक विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड के घर-घर में पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए ‘हर घर नल योजना’ का कार्य तीव्र गति से पूर्णता की ओर है। पूरे बुंदेलखंड में नौ हजार करोड़ रुपए से इस परियोजना का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।

बुंदेलखंड पर पीएम और सीएम की खास नजर

इस परियोजना के कार्य पूर्ण होते ही पूरे बुंदेलखंड में कहीं भी पेयजल की कोई भी समस्या नहीं होगी। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे, डिफेंस कॉरिडोर सहित कई बड़ी परियोजनाएं लागू की हैं। आध्यात्मिक दृष्टि से चित्रकूट का पर्यटन विकास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री कि बुंदेलखंड के विकास पर खास नजर है। यहां पर सभी खुशहाल होंगे।