पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कौशांबी में रोपे जाएंगे 25 लाख पौधे:75 प्रजाति के पौधरोपण का एजेंडा तय, वृक्षारोपण की होगी जियो टैगिंग

कौशांबी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कौशांबी में जिला पर्यावरण समिति और वन बंदोबस्त समिति की बुधवार को जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने बैठक ली। बैठक में डीएफओ ने प्रत्येक ग्राम सभा और नगर पंचायत में 75 प्रजाति के पौधरोपण का एजेंडा पेश किया। जिसमें कार्य योजना के अनुसार जिले मे 25 लाख से अधिक पौधा रोपण किए जाने का लक्ष्य रखा गया। इस दौरान डीएम ने सरकारी विभागों के पौध रोपण के लक्ष्य का वितरण कर पौध स्थल के जियो टैगिंग किए जाने के निर्देश दिये।

प्रभागीय वनाधिकारी डॉ. आर एस यादव ने बताया कि अमृत महोत्सव के तहत प्रत्येक ग्राम और नगर पंचायतों में अमृत वन (अमृत महोत्सव उद्यान) की स्थापना किये जाने के निर्देश दिये गये है। नर्सरियों में पौधे उठाने के लिए कार्ययोजना बना ली गई है। ग्राम गंगा सेवा समिति का गठन कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

कौशांबी में जिला पर्यावरण समिति और वन बंदोबस्त समिति की बैठक।
कौशांबी में जिला पर्यावरण समिति और वन बंदोबस्त समिति की बैठक।

अधिकारियों को वृक्षारोपण कराने का निर्देश
डीएम सुजीत कुमार ने प्रभागीय वनाधिकारी को निर्देशित किया कि वृक्षारोपण स्थलों की टैगिंग के संबंध में संबंधित विभागों के कर्मचारी को प्रशिक्षण दिया जाए। जिससे सुगमतापूर्वक जियो टैग किया जा सके। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष वृक्षारोपण कराने के निर्देश दिये।

जिला पर्यावरण समिति और वन बंदोबस्त समिति की बैठक में मौजूद अधिकारी।
जिला पर्यावरण समिति और वन बंदोबस्त समिति की बैठक में मौजूद अधिकारी।

विभागों को पौध रोपण का मिला लक्ष्य
जिले में कुल 2507120 पौधरोपण का लक्ष्य प्राप्त हुआ। जिसमें वन विभाग को 829458, पर्यावरण विभाग को 92162, ग्राम्य विकास विभाग को 958720, राजस्व विभाग को 103740, पंचायती राज विभाग को 103740, नगर विकास को 17920, लोक निर्माण विभाग को 17220, जल शक्ति (सिंचाई विभाग) को 10920, कृषि विभाग को 176400, पशुपालन विभाग को 8540।

कौशांबी में डीएम ने बैठक कर सरकारी विभागों के पौधरोपण का लक्ष्य किया तय।
कौशांबी में डीएम ने बैठक कर सरकारी विभागों के पौधरोपण का लक्ष्य किया तय।

सहकारिता विभाग को 4200, उद्योग विभाग को 12600, ऊर्जा विभाग को 6860, माध्यमिक शिक्षा विभाग को 9140, बेसिक शिक्षा विभाग को 12040, प्राविधिक शिक्षा विभाग को 2100, उच्च शिक्षा विभाग को 5000, स्वास्थ्य विभाग को 13020, परिवहन विभाग को 1960, उद्यान विभाग को 115080 और पुलिस विभाग को 6300 पौधों का रोपण करने का लक्ष्य दिया गया।

खबरें और भी हैं...