पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कौशांबी में अभी तक नहीं सुलझा शव विवाद:डीएम के आदेश के बाद शव को लाया जा सकता है बाहर

कौशांबीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कौशांबी में सिराथू के बिजली पुर गांव में दफन लाश मामले में बुधवार को सीओ सिराथू ने प्रकरण की जांच शुरू कर दी है। जांच में पुलिस अधिकारी ने लाश को सूरज की होने का दावा करने वाले पक्ष के सबूत और बयान दर्ज किए। वहीं लाश को रमजान बता कर अंतिम संस्कार करने वाले परिवार के पक्ष व साक्ष्य जुटाए। मामले में पुलिस अफसर ने बंद लिफाफे में उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजने की बात कही है।

पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने बुलाया

कुछ दिन पहले रेलवे ट्रैक पर मिले शव के दो दावेदार सामने आने के बाद सैनी पुलिस की मुश्किलें बढ़ गई। बिजली पुर गांव के सब्बीर ने शव को अपना बेटा रमजान बता कर दफन कर दिया। जबकि फतेहपुर जिले के धाता निवासी संतराज ने बिजलीपुर गांव में दफन लाश को अपना बेटा सूरज बताते हुए डीएनए जांच कराए जाने की मांग की। डीएम सुजीत कुमार ने मामले में जांच एसपी को सौंपी। एसपी ने सिराथू सीओ केजी सिंह को जांच सौंपी। सीओ ने बुधवार को जांच शुरू करते हुए लाश के दोनों पक्ष को दफ्तर में तलब कर रमजान और सूरज होने के दावे को आधार का साक्ष्य संकलन किया।

प्रतापगढ़ गया था बेटा

बिजलीपुर गांव में रहने वाला परिवार रमजान को अपना बेटा बता रहे। पिता सब्बीर ने बताया कि रमजान की मां सफीकुल निशा ने बेटे को पहचाना था। वह काम के सिलसिले में प्रतापगढ़ गया था। साहब कोई दूसरे के बच्चे को क्यों दफन करेगा। मां सफीकुल निशा ने बताया, 14 जून को लोगों ने लाश की तस्वीर दिखाई तो लाश रमजान जैसी लगी। पुलिस के पास पहुंचे कागज देख पुलिस ने लाश की पहचान पोस्टमार्टम हाउस में कराई। शव देखकर वो उनको अपना बेटा रमजान लगा। वहीं अब धाता के लोग उसे अपना बता रहे हैं।

डीएम के आदेश पर शव को बाहर निकाला जा सकता है।
डीएम के आदेश पर शव को बाहर निकाला जा सकता है।

डीएम से की कार्रवाई की मांग

मामले में सिराथू के सीओ डा. केजी सिंह ने सूरज व रमजान के स्वजन से मिलकर हकीकत जानी। उन्होंने अपनी रिपोर्ट डीएम को भेजी है। सीओ डा. केजी सिंह ने बताया कि शव को कब्र से बाहर निकाले जाने का निर्देश डीएम द्वारा यदि दिया जाता है तो आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं, बुधवार को सूरज के स्वजन एक बार फिर डीएम से मिलकर शव को कब्र से बाहर निकाले जाने का निर्देश दिए जाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...