पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चरवा में किन्नर के ऊपर जानलेवा हमला और छिनैती:सीमा विवाद को लेकर भिड़े किन्नरों के दो गुट, कोर्ट के आदेश पर ढाई माह बाद दर्ज हुआ मामला

चायलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चरवा में किन्नर के ऊपर जानलेवा हमला और छिनैती। - Money Bhaskar
चरवा में किन्नर के ऊपर जानलेवा हमला और छिनैती।

चरवा थाना में ढाई महीने पहले किन्नर के ऊपर जानलेवा हमला और छिनेती होने के मामले में बुधवार को पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर प्राथमिकी दर्ज कर ली है। सीमा विवाद को लेकर दो जनपदों के किन्नरों के बीच विवाद हुआ था, जिसमें प्रयागराज से आए किन्नरों ने भरवारी कस्बा की एक किन्नर के उपर जानलेवा हमला करते हुए नकदी समेत सोने की जंजीर छीनकर चले गए थे। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सीमा विवाद को लेकर भिड़े थे दो गुट

कोखराज के भरवारी कस्बा निवासी मुस्कान सिंह चौहान (किन्नर) पुत्री संतोष ने न्यायालय में दाखिल किए गए वाद में बताया कि वह सालों से अपनी गुरू माता टिड्डी किन्नर के साथ प्रयागराज के धूमनगंज, पूरामुफ्ती समेत कौशांबी जनपद के पिपरी, सरायअकिल, चरवा व कोखराज क्षेत्र के गांवों में शादी विवाह बधाई आदि शुभ अवसर पर अपने जजमानों के घर सोहर गीत प्रस्तुत कर दान दक्षिणा हासिल करती हैं। आरोप है कि प्रयागराज के कुछ किन्नर उनके क्षेत्र में आने लगे तो इसी बात को लेकर विवाद हो गया।

पुलिस कार्रवाई न होने से ली कोर्ट की शरण

इसके बाद प्रयागराज के दो किन्नर सोनू उर्फ रानी किन्नर पुत्र दीपा निवासी 197 हिम्मतगंज और चांद उर्फ हुस्ना किन्नर पुत्र भज्जन आठ से दस साथियों के साथ 19 फरवरी को मुस्कान के आवास पर पहुंचे और हमला बोल दिया। मोहल्ले के लोगों के ललकारने पर भागे, जिसके बाद 19 मार्च को मुस्कान अपनी टीम के साथ बेरुआ चौराहे पर थी। इस बीच रानी और हुस्ना अपने 25 से 30 साथियों के साथ पहुंच कर मार पीट करने लगे। इस बीच मुस्कान के पास से 13 हजार पांच सौ रुपये समेत सोने की जंजीर छीन कर भाग निकले। पीड़िता ने मामले की तहरीर पुलिस को देने के साथ अधिकारियों से शिकायत की उसके बाद भी संतोष जनक कार्रवाई नहीं की गई तो पीड़िता ने न्यायालय से गुहार लगाई थी।

खबरें और भी हैं...