पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चायल में अतिक्रमण ने बढ़ाई परेशानी:रोजाना जाम से लोग परेशान, ईओ बोले-जल्द होगी कार्रवाई

चायलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चायल का सरायअकिल कस्बा इन दिनों पूरी तरह से अतिक्रमण की चपेट में है।कस्बे की प्रमुख सड़कों व चौराहों पर व्यापारियों, रेहड़ी वालों व डग्गामार वाहनों ने पूरी तरह से कब्जा कर रखा है। इससे आए दिन जाम से लोगों को परेशान होना पड़ता है।

सरायअकिल कस्बा जनपद की सबसे प्रमुख व पुरानी बाजारों में से एक है। बीच कस्बे में ही थाना समेत परिवहन विभाग का सरकारी बस अड्डा बना हुआ है। इलाके समेत गैरजनपद प्रयागराज व चित्रकूट के लोग भी यहां खरीद फरोख्त करने आते रहते हैं। लेकिन इन दिनों सड़क की पटरियों पर स्थानीय दुकानदारों,रेहड़ी वालों,ठेला वालों व डग्गामार वाहनों ने अतिक्रमण करके पूरे कस्बे की चौड़ी सड़कों की सूरत बिगाड़ दी है। सुबह होते ही सड़क के दोनों तरफ पटरियों पर स्थानीय दुकानदार अपनी अपनी दुकानों को सजा देते हैं। खरीद फरोख्त करने आने वाले ग्राहक भी अपने अपने वाहनों को बीच सड़क पर खड़ा कर देते हैं।

डग्गामार वाहनों से भी लग रहा जाम

सरायअकिल कस्बे की सड़कों व चौराहों का चौड़ीकरण तो कर दिया गया लेकिन वाहनों को खड़े करने के लिए पूरे बाजार में पार्किंग की कोई व्यवस्था नहीं बनाई गई। इसके चलते फकीराबाद,पटेल चौराहा,करन चौराहा आदि प्रमुख चौराहों पर डग्गामार वाहन जैसे विक्रम, अप्पे,खटारा बसें बीच सड़क पर भी वाहनों को खड़ा कर सवारियां भरने लगते हैं। स्थानीय पुलिस का आना-जाना भी इन प्रमुख जगहों पर लगा रहता है लेकिन उसकी निगाह भी इस ओर नहीं जाती है।

अतिक्रमण के कारण संकरी नजर आने लगीं चायल की सड़कें।
अतिक्रमण के कारण संकरी नजर आने लगीं चायल की सड़कें।

ब्रिटिशकाल में मिला था नगर पंचायत का दर्जा
सरायअकिल कस्बे को ब्रिटिश हुकूमत काल 1916 में नगर पंचायत का दर्जा प्राप्त हुआ था। आज तक न जाने कितनी सरकारें आई और गई, लेकिन आज तक नगर पंचायत को एक पार्किंग स्थल नसीब नहीं हो सका और न ही अतिक्रमण से निजात मिल सकी। जिसके कारण पूरे बाजार की सूरत बिगड़ गई है।

अतिक्रमण के कारण संकरी नजर आने लगीं चायल की सड़कें।
अतिक्रमण के कारण संकरी नजर आने लगीं चायल की सड़कें।

जल्द हटाया जाएगा अतिक्रमण
नगर पंचायत सरायअकिल के ईओ लालजी यादव का कहना है कि प्रमुख सड़कों व चौराहों से अतिक्रमण हटाने के लिए मुनादी कराई गई है, थाने से पुलिस बल की मांग भी की गई है। जल्द ही नगर पंचायत को अतिक्रमण से मुक्त करा दिया जाएगा।

अतिक्रमण के कारण संकरी नजर आने लगीं चायल की सड़कें।
अतिक्रमण के कारण संकरी नजर आने लगीं चायल की सड़कें।
खबरें और भी हैं...