पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चायल में दर्शनार्थियों के साथ दबंगों ने की मारपीट:महिलाओं समेत पांच घायल, मसुरिया देवी दर्शन को जाते समय हुआ था विवाद

चायलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सेंवढ़ा घाट पर शनिवार की शाम 5 बजे देवी दर्शन कर घर लौट रहे दर्शनार्थियों को दबंगों ने पीट दिया। जिसमें महिलाओं समेत पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को तिल्हपुरमोड़ बजार के आदित्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सुबह दर्शन को जाते समय महिलाओं के साथ छींटा कशी को लेकर नाव में विवाद हुआ था। जिसमें घात लगाए बैठे हमलावरों ने पीट कर घायल कर दिया।

माता के दर्शन के लिए गए थे पीड़ित
जानकारी के मुताबिक, पिपरी थाना क्षेत्र के तियरा गांव निवासी राकेश कुमार पुत्र रामलौटन मेहनत मजदूरी करके स्वजनों का भरण-पोषण करते हैं। शनिवार को राकेश स्वजनों और रिश्तेदारों को साथ लेकर प्रयागराज के अमिलिहन गांव में स्थित मसुरिया माता का दर्शन करने के लिए जा रहे थे।

घायल महिला
घायल महिला

रास्तें में हुआ था दबंगों से विवाद
दोपहर करीब 11 बजे वह सेंवढ़ा घाट पर नाव में सवार हो गए। इसी बीच क्षेत्र के अवधान गांव के कुछ लोग उसी नाव में बैठे गए। नाव बीच यमुना तक पहुंची ही थी कि तभी राकेश का उनसे विवाद हो गया। दोनों पक्षों से गाली गलौज शुरू हुआ तो सवार रहे अन्य लोगों ने बीच बचाव कर झगड़ा शांत कराया। जिसके बाद सभी दर्शन करने चले गए।

आरोप है कि लौटते समय शाम करीब 5 बजे जैसे ही राकेश पिपरी थाना के सेंवढ़ा गांव में नाव से उतरे तभी लाठी डंडा लेकर पहले से घाट लगाकर बैठे दर्जन भर लोग राकेश और उसके स्वजनों पर टूट पड़े। लाठी डंडे और लोहे की रॉड से पीट दिया।

पांच लोग गंभीर रूप से घायल
आरोप है कि इस बीच हमलावरों ने महिलाओं के आभूषण भी छीन लिया है। मारपीट में राकेश, पत्नी रूपा देवी, माता पार्वती, साढ़ू महेंद्र निवासी पूरामुफ्ती, सास विमला देवी गंभीर रूप से घायल हो गए। आसपास रहे लोगों के ललकारने पर हमलावर जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए। घायलों को तिल्हपुरमोड़ बजार के आदित्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मामले में महिलाओं के आभूषण छीनने और छींटाकशी, मारपीट का आरोप लगाते हुए महेंद्र ने पुलिस को तहरीर दी है। तहरीर मिलने के बाद पुलिस ने जांच शुरू किया है। स्वजनों के मुताबिक घायलों की हालत चिंता जनक स्थिति में बनी है।

खबरें और भी हैं...