पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Zika Control Room Prepared On The Lines Of Corona, Joint Teams Of Health Department, Municipal Corporation And Administration Engaged In Intensive Surveillance. Kanpur

जीका वायरस का नहीं थम रहा प्रकोप:कोरोना की तर्ज पर तैयार किया गया जीका कंट्रोल रूम, स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम और प्रशासन की संयुक्त टीमें सघन सर्विलांस में जुटीं

कानपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पोखरपुर में सर्विलांस टीम - Money Bhaskar
पोखरपुर में सर्विलांस टीम

जीका वायरस का खतरा कानपुर में बढ़ गया है पिछले 24 घंटे में कानपुर में जीका वायरस के 13 नए मामले सामने आए हैं जिनमें तीन महिलाएं और छह बच्चे भी शामिल हैं। शहर में अब संक्रमितों की संख्या 108 हो गयी है। जिला प्रशासन, नगर निगम और स्वास्थ विभाग की संयुक्त टीमें पोखरपुर, हरजिंदर नगर, श्याम नगर, ओम पुरवा, तिवारीपुर में संयुक्त सर्वे और सर्विलांस का काम कर रही हैं। टीमें दवा और एंटी लार्वा स्प्रे के माध्यम से जीका वायरस के प्रसार की उम्मीदों को खत्म करने में जुटी हुई है। इस बीच जिला प्रशासन ने बड़ी राहत देते हुए कानपुर नगर निगम के आई ट्रिपल सी में जी का कंट्रोल रूम स्थापित कर दिया है यहां 24 घंटे और सातों दिन जीका से संक्रमित रोगियों की सघन मॉनिटरिंग की जा रही है उनको कॉल कर उनका हालचाल पल-पल लिया जा रहा है।

कोरोना की तर्ज पर तैयार किया गया कंट्रोल रूम...
कानपुर नगर निगम ने कोरोना की तरह ही शहर में कंट्रोल रूम तैयार किया है जो पल पल संक्रमितों पर नज़र रखेगा। जीका कंट्रोल रूमइंचार्ज प्रतीक मिश्रा ने बताया, पिछले चौबीस घंटों में 13 केस जीका वायरस के नए आए हैं। आने वाले समय में इस वायरस के और पॉजिटिव मरीज मिल सकते है। इस समय शहर में संक्रमितों की कुल संख्या 108 हैं। हम लोग इन सभी लोगों के संपर्क में है और उनको मॉनिटर किया जा रहा है।जब कोई बीमारी या संक्रमित होता है तो उसे काउन्सलिंग की बहुत जरूरत पड़ती है तो इसी के लिए यह कण्ट्रोल रूम बनाया गया है। जिस तरह से कोरोना पीरियड में संक्रमितों की निगरानी की गयी थी उसी तरह इस संक्रमितों पर भी नज़र रखी जा रही है। जिन मरीजों को फीवर आरहा है उन्हें अस्पतालों में भर्ती किया जा रहा है। इस समय कांशीराम अस्पताल में एक बच्ची भर्ती है और दो मरीज एयरफोर्स हॉस्पिटल में है। तीन की हालत नार्मल है।

12 मोहल्लों में टीम एक्टिव...
शहर के 12 मोहल्लों में टीम के साथ स्वास्थ्य अधिकारी भ्रमण कर रहे हैं। सभी केसस की कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। सर्विलांस टीम सैंपलिंग कर रही है। सोर्स रिडक्शन की कार्यवाही भी पूरी की जा रही है। इन्ही मोहल्लों में 13 नए संक्रमित मिले हैं।

100 टीम सर्विलांस में लगी हुई है...
पहला केस पोखरपुर के रहने वाले और एयरफोर्स में काम करने वाले एमएम अली का निकला था। इनके पीछे ब्रीडिंग जगहों को अभी भी रोजाना दवा का छिड़काव किया जा रहा है। पहले मरीज के पीछे मच्छर बहुत ज्यादा तादाद में मिले थे। दरअसल एडीज मच्छर की 400 मीटर तक रेंज होती है और जिस को यह काटेगा वह संक्रमित हो जाता है। फिलहाल जीका वायरस के लिए सोर्स रिडक्शन की करीब 100 टीमें लगी हुई है। इसके साथ फोकल स्प्रे की भी 100 टीमें लगी हुई है और सर्विलांस की भी 100 टीमें लगी हुई है। पोखरपुर इलाके में ही सबसे ज्यादा नए संक्रमित सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग कानपुर नगर निगम और जिला प्रशासन 6 किलोमीटर की परिधि में मच्छर को मारने का काम कर रहे हैं।

जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है...
कानपुर के हरजिंदर नगर श्याम नगर ओम पुरवा न्यू आजाद नगर शिव कटरा लाल कुर्ती तिवारीपुर बगिया आदर्श नगर इलाकों में 100 टीमें लगी हुई हैं। जो रोकथाम का काम कर रही है। जागरूकता अभियान के तहत टीमें घर-घर जाकर स्थानीय लोगों को समझा रही है। जानकारों की मानें तो एडीज मच्छर दिन के वक्त काटता है। लेकिन इससे डरने की जरूरत नहीं है लोगों को पैनिक होने की जरूरत नहीं है लेकिन अपने आप को सुरक्षित रखने की जरूरत जरूर है। नगर निगम दो बार दिन रणनीति के तहत सघन फॉगिंग करा रहा है। सुबह 6 से 8 तक शाम को 4 से 6 बजे तक दवा के छिड़काव का अच्छा वक्त होता है। इसलिए इस वक्त का विशेष ध्यान रखा जा रहा है।