पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उदयपुर हत्याकांड के बाद कानपुर में हाई अलर्ट:पुलिस कमिमश्नर ने फोर्स के साथ हिंसा प्रभावित इलाके में किया पैदल मार्च, पूरे शहर में चौकसी बढ़ी

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सद्भावना चौराहे पर पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा और ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश ने फोर्स के साथ किया रूट मार्च। सुरक्षा को लेकर बनाई रणनीति। - Money Bhaskar
सद्भावना चौराहे पर पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा और ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश ने फोर्स के साथ किया रूट मार्च। सुरक्षा को लेकर बनाई रणनीति।

राजस्थान उदयपुर में जघन्य हत्याकांड होने के बाद कानपुर को भी हाई अलर्ट कर दिया गया। हिंसा प्रभावित क्षेत्र में पुलिस कमिश्नर ने खुद फोर्स के साथ पैदल रूट मार्च किया। इसके साथ ही सुरक्षा व्यवस्था को बेहतर करने का निर्देश दिया। पूरे शहर में पुलिस को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

हिंसा प्रभावित इलाके में चप्पे-चप्पे पर भारी फोर्स तैनात

पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा ने बताया कि राजस्थान उदयपुर में नुपुर शर्मा के बयान का समर्थन करने पर ही जघन्य हत्याकांड हुआ है। कानपुर में भी नुपुर शर्मा के बयान के खिलाफ ही हिंसा भड़की थी। इसके चलते कानपुर में एक बार फिर से हाई अलर्ट कर दिया गया है। इसके साथ ही हिंसा प्रभावित मुस्लिम क्षेत्र और चंद्रेश्वर हाते के पास फोर्स लगा दी गई है। इसके साथ ही पुलिस कमिश्नर, ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश समेत अन्य अफसरों ने पीएसी और आरएएफ के साथ हिंसा प्रभावित क्षेत्र में रूट मार्च किया। इसके साथ ही लोगों को सुरक्षा का भरोसा दिलाया।

सद्भावना और यतीमखाना चौराहा फिर बना छावनी

सुरक्षा को देखते हुए यतीमखाना चौराहा और सद्भावना चौराहा के साथ ही चंद्रेश्वर हाता और रूपम चौराहे समेत अन्य प्रमुख जगहों पर पीएसी तैनात कर दी गई है। इसके साथ ही लगातार हिंसा प्रभावित क्षेत्र में पुलिस फोर्स देर रात तक गश्त करती रही। पुलिस कमिश्नर ने सभी थानेदारों को अलर्ट मोड पर रहने का आदेश दिया है। किसी भी छोटी से छोटी शिकायत को गंभीरत से निपटाने का आदेश दिया है। इससे कि कोई भी विवाद आगे बढ़ने की बजाए मौके पर ही खत्म कर दिया जाए।

खबरें और भी हैं...