पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %

कानपुर...सिर्फ 4 लाख को लगे वैक्सीन के डबल डोज:दिसंबर तक शहर के 52 लाख लोगों के वैक्सीनेशन का टारगेट; 18 से 44 की उम्र वालों को लगाने पड़ रहे हैं चक्कर

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वैक्सीन लगवाती महिला। - Money Bhaskar
वैक्सीन लगवाती महिला।

सरकार द्वारा चलाए जा रहे मेगा वैक्सीनेशन अभियान के अंतर्गत रोजाना हजारों लोगों को कोरोना की वैक्सीन लग रही है। लेकिन सरकारी आकड़ों के मुताबिक, अभी तक शहर की आधी आबादी का भी वैक्सीनेशन नहीं हो पाया है। हालांकि सरकार द्वारा किए जा रहे दावों के मुताबिक, दिसंबर तक शहर के हर व्यक्ति को वैक्सीन लग चुकी होगी, लेकिन यह सभी दावे खोखले साबित होते दिख रहे हैं। कानपुर शहर की आबादी 10 साल पहले हुई जनगणना के मुताबिक करीब 52 लाख थी। जानकारों की मानें तो इस समय शहर की आबादी लगभग 68 से 70 लाख के आसपास पहुंच गई है।

चौकाने वाले आंकड़े, सरकारी दावे खोखले
आंकड़ों के हिसाब से कानपुर नगर में 16 जनवरी 2021 से शुरू हुए वैक्सीनेशन अभियान में 18 सितंबर तक सिर्फ 16,72721 लोगों को पहली डोज लगी है। वहीं दूसरी डोज के आंकड़े तो और भी चौंकाने वाले हैं। 18 सितंबर तक सिर्फ 4,95143 लोगों को ही दूसरी डोज लगी है। इन आंकड़ों के हिसाब से सरकार के सारे दावे खोखले साबित होते दिख रहे हैं। 70 लाख की आबादी वाले शहर में सिर्फ 4,95143 लोगों का ही वैक्सीनेशन पूरा हो पाया है।

दूसरी लहर का मंजर देखने को मिल सकता है
जानकार कहते हैं कि अगर कोरोना की संभावित तीसरी लहर दस्तक देती है, तो शहर में जिस तरह से दूसरी लहर में मौतें हुई थीं, वैसे ही दिन देखने को मिल सकते हैं। क्योंकि वैक्सीन लगने के कुछ दिन तक व्यक्ति के शरीर का इम्युनिटी सिस्टम थोड़ा वीक रहता है। ऐसे में अगर तीसरी लहर आती है, तो दूसरी लहर वाला ही मंजर देखने को मिल सकता है।

नहीं लग पा रही है दूसरी डोज
शहर में दूसरी डोज लगवाने वाले लोगों को एक वैक्सीनेशन सेंटर से दूसरे में दौड़ लगानी पड़ रही है। कृष्णा नगर में रहने वाली प्रतिमा पांडेय और उनके बेटे को वैक्सीन की दूसरी डोज लगनी थी। उनके पति पेशे से पत्रकार हैं और वह भी अपने परिवार को वैक्सीन नहीं लगवा पा रहे हैं। उनका कहना था कि जो सेंटर पहले अलॉट हुआ, जब हम दिए गए समय पर पहुंचे तो वहां वैक्सीन खत्म हो गई। इसके बाद जब हमने अगले दिन वैक्सीन स्लॉट दोबारा बुक किया तो कल्याणपुर का सेंटर मिला जो हमारे घर से 45 किलोमीटर दूर है। वहां पर भी गए तो वैक्सीन नहीं लगी। ऐसा सिर्फ इनके साथ ही नहीं, शहर के ज्यादातर लोगों के साथ हो रहा है। 18 साल से ऊपर वाले लोगों को भी स्लॉट बुक करने में दिक्कत आ रही है।

दिसंबर तक सभी का टीकाकरण संभव नहीं कानपुर के अपर निदेशक हेल्थ डॉ. जीके मिश्रा ने 15 सितंबर को बताया था कि सीएमओ ऑफिस से मिले आदेश के अनुसार दिसंबर तक प्रदेश के सभी लोगों को कम से कम पहली डोज लग जाएगी। हम लोग इस लक्ष्य को नवंबर के अंत तक पूरा कर लेंगे। साथ ही दिसंबर तक ग्रामीण इलाकों के हर एक व्यक्ति को पहला डोज लग चुका होगा। लेकिन कानपुर शहर के लोगों को कैसे नवंबर के पहले वैक्सीनेट करेंगे, इसका न तो सरकार के पास कोई जवाब है और न ही इसके लिए अब तक कोई योजना बनाई गई है।

खबरें और भी हैं...